करियर की बेस्ट रैंकिंग पर पहुंचकर भी निराश हैं रामकुमार

0
205

एटीपी के फाइनल में पहुंचकर तहलका मचाने वाले भारतीय टेनिस खिलाड़ी रामकुमार रामनाथन ने अपने करियर की बेस्ट रैंकिंग हासिल कर ली है। हल ही में खत्म हुए हॉल ऑफ फेम ओपन टेनिस टूनार्मेंट में उप-विजेता रहने वाले भारत के रामकुमार रामनाथन ने सोमवार को जारी टेनिस पेशेवर संघ (एटीपी) की जारी ताजा रैंकिंग में 46 स्थान की छलांग के साथ 115वां स्थान हासिल कर लिया है। फाइनल में रविवार को अमेरिका के स्टीव जॉनसन से 5-7, 6-4, 2-6 से मात खाने के बाद रामनाथन के हिस्से 150 अंक आए। युकी भांबरी हालांकि भारत की तरफ से सबसे ज्यादा रैंकिंग हासिल करने वाले खिलाड़ी बने हुए हैं। वह 86वें स्थान पर हैं जबकि प्रजनेश गुणास्वेरन को दो स्थान का नुकसान हुआ है और वो 186वें स्थान पर आ गए हैं। सुमित नागल 269 जबकि साकेत मेयनेनी और अजुर्न काधे क्रमश: 339 और 345वें स्थान पर बने हुए हैं। युगल रैंकिंग में रोहन बोपन्ना भारत की तरफ से सबसे ज्यादा रैंकिंग हासिल करने वाले खिलाड़ी हैं। वह 27वें स्थान पर हैं। दिविज शरण दो स्थान खिसक कर 38वें स्थान पर आ गए हैं। बता दें कि रामकुमार सात साल में एटीपी विश्व टूर के फाइनल में पहुंचने वाले पहले भारतीय हैं। इससे पहले लिएंडर पेस ने 1998 में इसी खिताब को जीता था। रामकुमार से पहले सोमदेव देवबर्मन एटीपी विश्व टूर प्रतियोगिता के एकल फाइनल में पहुंचे थे। सोमदेव 2011 में जोहानिसबर्ग में केविन एंडरसन से हार गये थे। रामकुमार ने न्यूपोर्ट से कहा, ‘मैं फाइनल में जीत नहीं दर्ज कर पाने से निराश हूं लेकिन यहां तक पहुंचना मुश्किल था। मैं चूक गया। मैं मैच की रिकॉर्डिंग देखूंगा कि कहां गलती हुई लेकिन यह सीखने का अच्छा अनुभव रहा। मैं इससे सकारात्मक चीजें लूंगा।
पिछले साल दुनिया के आठवें नंबर के खिलाड़ी डोमिनिक थीम को हराने वाले रामानाथन ने कहा कि उस जीत से एक खिलाड़ी के तौर पर उन्हें काफी फायदा हुआ। उन्होंने कहा, ‘शीर्ष 10 रैंकिंग में शामिल थीम को हराना आसान नहीं था। उस जीत से मेरा आत्मविश्वास बढ़ा कि मैं किसी के खिलाफ अच्छा खेल सकता हूं।’ टूर्नामेंट में उपविजेता रहने के बाद भी वह अपनी सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग 115 तक पहुंच गये हैं जिसका मतलब यह हुआ की उन्हें यूएस ओपन के मुख्य ड्रॉ में भी जगह मिलने की संभावना है। अगर ऐसा नहीं हुआ तो क्वालीफायर्स के जरीये भी उनके पास मौका होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.