तेजस्वी का बड़ा आरोप- बिहार में चल रहा राक्षसराज, रावण-दुर्योधन की है सरकार

0
348

तेजस्वी यादव ने बड़ा आरोप लगाते हुए कहा है कि बिहार में राक्षसराज चल रहा है। यहां रावण-दुर्योधन की सरकार चल रही है। यहां सीता मईया सुरक्षित नहीं हैं और चाचा की अंतरात्मा सो रही है।
पटना । नेता प्रतिपक्ष ने राजद और भाजपा पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा है कि चाचाजी की अंतरात्मा खत्म हो गई है या अभी गहरी नींद में सो सही है। उनकी अंतरात्मा तभी जगती है जब मुख्यमंत्री की कुर्सी खतरे में पड़ती है। वो किसी भी महिला या लड़की को दुष्कर्मियों से बचाने के लिए कोई प्रयत्न नहीं करेंगे। तेजस्वी ने कहा कि बिहार में अब राक्षसराज है। यहां रावण माता सीता का अपहरण कर रहा है। यहां बलात्कार राज है, दु:साहसी दुर्योधन द्रोपदी का चीरहरण कर रहा है। बिहार में रावण और दुर्योधन की मतलबी जोड़ी ने बहन- बेटियों और माताओं का अकेले बाहर निकलना मुश्किल कर दिया है। नीतीश जी ने शासन का एनजीओ मॉडल निकाला है जिसमें खुल कर भ्रष्टाचार हो रहा है। वर्चस्ववादी समूहों व सत्ता के करीबियों को ठेके और रेवड़ियां बांटी जाती हैं। बदले में ये सुशासनी सिस्टम के चूहे पूरी निर्भयता से वसूली करते हैं और जदयू को काली कमाई से फंड भी देते हैं! जदयू- भाजपा के एनजीओ मॉडल के कारण खूब धड़ल्ले से नए-नए घोटालों का पर्दाफाश हो रहा है पर पलटू-सलटू की जोड़ी को इससे कोई गुरेज नहीं, बच्चियों के शोषण और इन काले ठेकों से हुई काली कमाई का बड़ा हिस्सा फंड के रूप में इन पार्टियों को मिलता है! तेजस्वी ने कहा कि अगर सृजन कांड भाजपा-जदयू और एक भाई भतीजावाद वाली एनजीओ की मिलीभगत से हुआ तो मुजफ्फरपुर, सारण, बांका, दरभंगा, गोपालगंज व राज्य भर के बालिका व अल्पावास गृहों में हो रहे यौन शोषण कांड भी सरकार, भाजपा जदयु के नेताओं और एनजीओ की निरंकुशता से हुए। मुजफ्फरपुर बालिका गृह बलात्कार कांड बालिका शोषण का इकलौता नहीं है बांका, सारण, दरभंगा, गोपालगंज, हाजीपुर के अल्पावास गृहों से भी ऐसी ही ख़बरें आ रही हैं! सरकार की चिंता न्याय नहीं, अपराधियों का बचाव है। एेसे में नीतीश जी की चुप्पी आपराधिक है। उन्होंने कहा कि अगर अनाथालयों और बालिका गृहों की सही से जांच की जाए तो आधे से ज्यादा भाजपा और जदयू के नेताओं की राजनीतिक यात्रा खत्म हो जाएगी। उनकी संलिप्तता उजागर हो जाएगी। तेजस्वी ने कहा कि इस बार बिहार की महिलाएं पलटू चाचा को माफ नहीं करेंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.