बैंकों में दुर्गापूजा की छुट्टी के कारण नवरात्र में हो सकती है कैश की दिक्कत

0
428

पटना : अगर आप दशहरा की छुट्टियों में घर जा रहे हैं, या बैंकों से जरूरी लेन-देन करना हो तो, बैंक का काम जल्द निबटा लें. अभी से तैयारी नहीं किये जाने पर आपकी नवरात्रि का मेला किरकिरा हो सकता है. लगातार बैंकों के बंद रहने से एटीएम में कैश की किल्लत हो सकती है. ऐसे में ऑनलाइन बैंकिंग और डिजिटल पेमेंट का आप सहारा ले सकते हैं, लेकिन हर जगह यह संभव नहीं है. जानकारी के मुताबिक, आज 13 अक्तूबर, शनिवार को बैंक माह का दूसरा सप्ताह होने के कारण बैंक बंद है. रविवार 14 अक्तूबर को साप्ताहिक अवकाश के कारण बैंक बंद रहेगा. वहीं, बिहार में नवमी, दशमी अर्थात 18-19 को बैंक में छुट्टी है. 20 अक्तूबर को बैंक खुलेगा, लेकिन शनिवार होने के कारण भीड़ काफी होने की संभावना है. फिर अगले दिन 21 को साप्ताहिक अवकाश रहेगा. ऐसे में 22 अक्तूबर से ही बैंकों का काम सुचारू रूप से चल पायेगा.वहीं, झारखंड में बैंकों में दुर्गापूजा की छुट्टी अष्टमी से ही शुरू होने के कारण बैंक लगातार तीन दिन तक बंद रहेगा. 17-18 और 19 अक्तूबर को दुर्गापूजा की छुट्टी होने के कारण झारखंड में बैंक 15 और 16 अक्तूबर को खुलेंगे. वहीं, शनिवार 20 अक्तूबर को बैंक खुलेगा, लेकिन भीड़ ज्यादा होने की संभावना है. फिर अगले दिन 21 को साप्ताहिक अवकाश रहेगा. ऐसे में यहां भी 22 अक्तूबर से ही बैंकों का काम सुचारू रूप से हो पायेगा.

बैंकों में छुट्टी होने के दौरान हो सकता है कि एटीएम में कैश की किल्लत हो जाये. लिहाजा समय रहते बैंकों से पैसे की निकासी कर लें, ताकि दुर्गापूजा की छुट्टियों के दौरान किसी तरह की दिक्कत आपको ना हो. हालांकि, इस दौरान ऑनलाइन बैंकिंग और डिजिटल पेमेंट का सहारा ले सकते हैं, लेकिन हर जगह यह संभव नहीं है. हालांकि, बैंक अधिकारियों का कहना है कि दुर्गापूजा की छुट्टियों को लेकर बैंकों की ओर से एटीएम में मुकम्मल व्यवस्था की जायेगी, ताकि लोगों को पैसों की दिक्कत का सामना न करना पड़े.

बैंकों में छुट्टी के दौरान पैसे के लिए आपको एटीएम के भरोसे रहना पड़ेगा. दुर्गापूजा के कारण सभी लोगों को अधिक पैसों की जरूरत होगी. लिहाजा वे आम दिनों की तुलना में एटीएम से अधिक पैसे निकालेंगे. ऐसे में अगर एटीएम के पैसे खत्म हो गये, तो परेशानी हो जायेगी. चेक से पेमेंट लेनेवालों को भी ध्यान रखना होगा कि वे असुविधा से बचने के लिए 16 अक्तूबर से पहले का चेक लें और दें. अगर इसके बाद की तिथि का चेक होगा, तो वह दुर्गापूजा की छुट्टियों के बाद ही क्लियर हो पायेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.