गुजरात के CM रूपाणी के खिलाफ मानहानि का मुकदमा करेंगे बिहार कांग्रेस प्रभारी गोहिल

0
337

गुजरात कांग्रेस नेता शक्ति सिंह गोहिल ने कहा है कि वह मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के खिलाफ यह कहने के लिए आपराधिक एवं दीवानी मानहानि वाद दायर करेंगे कि राज्य में हाल में हिंदी भाषी लोगों पर हुए हमलों के लिए विपक्षी पार्टी के ‘बिहार प्रभारी’ जिम्मेदार हैं. गोहिल बिहार में कांग्रेस पार्टी मामलों के प्रभारी हैं. बिहार के एक श्रमिक के, साबरकांठा जिले में 28 सितंबर को 14 महीने की एक बच्ची से बलात्कार के आरोप में गिरफ्तार किये जाने के बाद उत्तर गुजरात के कई जिले हिंसा से प्रभावित हुए थे. इससे राज्य से हजारों लोगों का पलायन हुआ.
मालूम हो कि गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने लखनऊ में किसी का नाम लिये बिना गत दिनों कहा था कि कांग्रेस पार्टी के बिहार प्रभारी हिंसा के लिए जिम्मेदार हैं. उन्होंने कहा कि इस सिलसिले में गिरफ्तार किये गये लोगों में 50 से अधिक कांग्रेस के कार्यकर्ता हैं. संयोग से कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर पार्टी के बिहार प्रभारी सचिव हैं. सत्ताधारी भाजपा ने कई मौकों पर ठाकोर और उनके संगठन क्षत्रिय ठाकोर सेना पर हिंसा के लिए आरोप लगाया है. भाजपा नेताओं ने यह भी उल्लेखित किया है कि हिंसा के संबंध में गुजरात पुलिस द्वारा दर्ज की गयी कई प्राथमिकियों में ठाकोर के संगठन का उल्लेख है. ठाकोर ने लगातार आरोपों से इनकार किया है और दावा किया है कि ठाकोर समुदाय के खिलाफ दर्ज मामले झूठे हैं.

गोहिल ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘मैं गुजरात के मुख्यमंत्री के खिलाफ उनके इस बयान के लिए आपराधिक एवं दीवानी मानहानि वाद दायर करूंगा कि कांग्रेस के बिहार प्रभारी हमारे राज्य में हिंसा के लिए जिम्मेदार हैं.’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं पहले उन्हें एक विधिक नोटिस भेजूंगा और स्पष्टीकरण के लिए दो सप्ताह का समय दूंगा. यदि वह माफी नहीं मांगते हैं, तो मैं अदालत जाऊंगा.’ यह पूछे जाने पर कि यदि रूपाणी का इशारा उनकी ओर नहीं, ठाकोर की ओर हो, तो गोहिल ने कहा कि कांग्रेस एक राज्य के लिए मात्र एक ‘प्रभारी’ नियुक्त करती है और अन्य सभी ‘सचिव’ होते हैं. उन्होंने कहा, ‘मैं उम्मीद करता हूं कि गुजरात के मुख्यमंत्री को यह मूलभूत ज्ञान हो. यदि वह मेरे बारे में बात नहीं कर रहे थे, तो उन्हें स्पष्टीकरण देना चाहिए. आज कई समाचारपत्रों ने खबर दी है कि मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि मैं हिंसा के लिए जिम्मेदार हूं. इसलिए मैंने विधिक कार्रवाई का निर्णय किया है.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.