बोले डोनाल्ड ट्रंप- पत्रकार खशोगी की मौत पर सऊदी अरब के जवाब से संतुष्ट नहीं

0
269

वाशिंगटन : अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि वह तुर्की में सऊदी अरब के वाणिज्य दूतावास में बागी पत्रकार जमाल खशोगी की मौत को लेकर खाड़ी देश के जवाब से ‘‘संतुष्ट नहीं” हैं. ट्रंप ने यह भी कहा कि अमेरिकी अधिकारियों का एक समूह सऊदी अरब में है और जांचकर्ताओं का अन्य समूह तुर्की में है जो इस मामले पर जानकारियां एकत्र करने की कोशिश कर रहा है.

ट्रंप ने सोमवार को टेक्सास में एक चुनावी रैली के लिए रवाना होने से पहले व्हाइट हाउस में पत्रकारों से कहा, ‘‘मैंने जो सुना, उससे मैं संतुष्ट नहीं हूं.” उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘हम बहुत जल्द पता लगाएंगे. हमारे पास अत्यधिक प्रतिभाशाली लोग हैं. वे आज या कल वापस आ रहे हैं और मुझे जल्द ही पता लग जाएगा.” वाशिंगटन पोस्ट के लिए काम करने वाले खशोगी की दो अक्टूबर को इस्तांबुल में सऊदी अरब के वाणिज्य दूतावास में हत्या कर दी गयी जहां वह अपनी शादी से संबंधित कुछ दस्तावेज लेने गए थे.

दो सप्ताह तक सऊदी अरब सरकार ने कहा कि खशोगी पीछे के दरवाजे से दूतावास से चले गये थे लेकिन वैश्विक आक्रोश के बाद उसने एक बयान जारी कर माना कि खशोगी की मौत दूतावास के भीतर ही हुई. ट्रंप ने पत्रकारों से कहा था कि उन्होंने सऊदी अरब के शहजादे मोहम्मद बिन सलमान से बात की है. उन्होंने कहा, ‘‘सऊदी अरब में हमारे लोग हैं। तुर्की में हमारे शीर्ष खुफिया अधिकारी हैं. मुझे कल काफी कुछ पता चलेगा, वे आज रात या कल सुबह वापस लौट आएंगे.”

सवालों के जवाब में अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि वह सऊदी अरब के साथ 110 अरब डॉलर के बड़े हथियार सौदे पर कोई कदम उठाने के खिलाफ हैं. उन्होंने कहा, ‘‘मैं उन सभी निवेशों को गंवाना नहीं चाहता जो हमारे देश में आ रहे हैं. मैं लाखों नौकरियां नहीं खोना चाहता, मैं निवेश के लिहाज से 110 अरब डॉलर नहीं गंवाना चाहता लेकिन असल में यह 450 अरब डॉलर है तो यह बहुत महत्वपूर्ण है.”

वाशिंगटन पोस्ट के लिए काम कर रहे खशोगी को दो अक्टूबर को इस्तांबुल में स्थित सऊदी अरब के दूतावास में मार डाला गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.