जदयू विधायक ने भाजपा नेता को दी गोलियों से छलनी करने की धमकी, विधायक ने कहा- बदनाम करने की साजिश

0
317

गोपालगंज : निजी जमीन के रास्ते को लेकर शुरू हुए विवाद में भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुखिया शिव कुमार उपाध्याय ने जदयू के विधायक अमरेंद्र कुमार उर्फ पप्पू पांडेय पर गोलियों से छलनी करने की धमकी देने का आरोप लगाया है. वहीं, धमकी के बाबत भाजपा नेता और उनके परिजन दहशत में आ गये हैं. उधर, भाजपा कार्यकर्ताओं में आक्रोश का माहौल है. मालूम हो कि शिव कुमार उपाध्याय भाजपा जिला कार्य समिति के सदस्य हैं. जबकि, विधायक पप्पू पांडेय बिहार के बाहुबली सतीश पांडेय के भाई हैं.भाजपा जिलाध्यक्ष विनोद सिंह के नेतृत्व में मंगलवार को वरीय पुलिस अधिकारियों से मिलकर कार्रवाई की मांग की. भाजपा नेताओं का आरोप है कि सोमवार की शाम को उचकागांव थाना क्षेत्र के श्यामपुर के पास एक शादी की बात करने शिव कुमार उपाध्याय जा रहे थे, तभी पीछे से जदयू विधायक अमरेंद्र कुमार पांडेय की काफिला पहुंचा और ओवरटेक कर उनकी गाड़ी को रोक दिया. गाड़ी से उतारकर गाली-गलौज करने लगे और गोलियों से छलनी कर देने की धमकी दी. इस मामले में उचकागांव थाने में विधायक के खिलाफ लिखित तहरीर दी है. पुलिस ने अब तक कोई कार्रवाई नहीं की है.
क्या है मामला?

कुचायकोट थाने के शिवराजपुर के शिव कुमार उपाध्याय की पंचायत के एक टोले के रास्ता इनकी जमीन से होकर गुजरता था. टोले के लोग विधायक पप्पू पांडेय के पास पहुंच कर सड़क बनाने की अपील की, तो पप्पू पांडेय ने उनसे कह दिया कि मेरे रिश्तेदार शिव कुमार उपाध्याय हैं. आप उनकी जमीन से रास्ता भरवा लें. गांव के लोग यह बात कहते हुए मिट्टी भरने लगे. इसका विरोध करने के दौरान भाजपा नेता एवं उनके भाई ने विधायक को चुनौती देते हुए गाली-गलौज दी थी, जिसका ऑडियो भी वायरल हो रहा है.जदयू विधायक अमरेंद्र कुमार उर्फ पप्पू पांडेय ने पत्रकारों से कहा कि कुछ लोग मुझे बदनाम करने की साजिश रच रहे हैं. शिव कुमार उपाध्याय के परिवार से पिछले 18 वर्ष से संबंध हैं. मैं उन्हें कभी धमकी नहीं दे सकता हूं. वहीं, गाली-गलौज दिये जाने के संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि बेवजह विवाद पैदा किया जा रहा है.भाजपा नेता कृष्णा शाही हत्याकांड में आया था नाम

जिले के फुलवरिया में भाजपा नेता कृष्णा शाही हत्याकांड में भाजपा नेता के बड़े भाई उमेश शाही ने जदयू विधायक अमरेंद्र कुमार उर्फ पप्पू पांडेय समेत छह लोगों पर नामजद प्राथमिकी दर्ज कराते हुए आरोप लगाया गया था कि साजिश के तहत सतीश पांडेय, उनके पुत्र सह जिला पर्षद के चेयरमैन मुकेश पांडेय, विधायक अमरेंद्र कुमार उर्फ पप्पू पांडेय, चैनपुर गांव के निवासी यशवंत राय, सुशील उर्फ राजन तथा आदित्य राय ने जहर देकर हत्या की है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.