भाकपा की ‘भाजपा हराओ-देश बचाओ’ रैली : देश को भाजपा और आरएसएस से खतरा, मुसलमानों को डरा रही BJP : सुधाकर रेड्डी

0
324

भाकपा की ‘भाजपा हराओ-देश बचाओ’ आयोजित रैली में भाकपा महासचिव सुधाकर रेड्डी ने कहा कि देश को भाजपा और आरएसएस से खतरा है. देश में जाति के नाम पर भाजपा फूट डालना चाहती है. भाजपा मुसलमानों को डरा रही है. मालूम हो कि अगले साल होनेवाले लोकसभा चुनाव से पहले विपक्षी एकता को दिखाते हुए गांधी मैदान में गुरुवार को ‘भाजपा हराओ-देश बचाओ’ रैली बुलायी गयी है.

भाकपा की ‘भाजपा हराओ-देश बचाओ’ रैली में भाग लेने के लिए कांग्रेस, राजद, लोकतांत्रिक जनता दल, हम समेत कई दलों के नेता शामिल हुए. भाकपा के महासचिव सुधाकर रेड्डी, अतुल कुमार अंजान, के नारायणा, रमेंद्र कुमार, जिग्नेश मेवानी, कन्हैया कुमार सहित शरद यादव, माकपा के मो. सलीम, कांग्रेस के गुलाम नबी आजाद, दीपंकर भट्टाचार्य, जीतन राम मांझी समेत सभी विपक्षी दलों के शीर्ष नेता भाग ले रहे हैं. मालूम हो कि केंद्र और राज्य सरकार की जनविरोधी नीतियों और सांप्रदायिकता के खिलाफ भाकपा की ओर से यह रैली आयोजित की गयी है. पेट्रोल-डीजल, घरेलू सामान की कीमतों में बढ़ोतरी, दलितों, अल्पसंख्यकों, महिलाओं पर हो रहे जुल्म और राफेल खरीद घोटाला के साथ-साथ सभी को रोजगार, शिक्षा, स्वास्थ्य की गारंटी की मांग को लेकर रैली बुलायी गयी है.

रैली को संबोधित करते हुए भाकपा महासचिव सुधाकर रेड्डी ने भाजपा और आरएसएस पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि देश को भाजपा और आरएसएस से खतरा है. देश में जाति के नाम पर भाजपा फूट डालना चाहती है. वहीं, उन्होंने भाजपा पर मुसलमानों को डराने का भी आरोप लगाया. साथ ही कहा कि असम से 40 लाख लोगों को भगाने की कोशिश भाजपा कर रही है. रेड्डी ने कहा कि दलितों और बुद्धिजीवियों पर लगातार हमले किये जा रहे हैं. साथ ही नोटबंदी से देश में बेरोजगारी बढ़ने की बात कही. जीएसटी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जीएसटी से संकट बढ़ा है. अपने संबोधन में भाकपा महासचिव ने भाजपा अध्यक्ष को निशाने पर लेते हुए कहा कि अमित शाह के बेटे ने गुजरात में गलत तरीके से धन कमाया. जेएनयू के छात्र संघ के पूर्व नेता कन्हैया कुमार की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि कन्हैया ने संघ परिवार से आजादी की बात कही. इसलिए कन्हैया को फंसाया गया. वहीं, भाकपा-माले के महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य ने मोदी और शाह की सरकार को हादसा करार देते हुए कहा कि केंद्र सरकार राफेल घोटाले में चोरी और सीनाजोरी कर रही है. मीडिया को टारगेट किया जा रहा है.

रैली में शामिल होने के लिए राजद को भी आमंत्रण दिया गया था. राजद नेता तेजस्वी यादव ने आमंत्रण तो स्वीकार किया, लेकिन रैली में शामिल होने से इनकार कर दिया. बताया जाता है कि जेएनयू के पूर्व छात्र नेता कन्हैया की उपस्थिति के कारण तेजस्वी यादव रैली में शामिल नहीं हो रहे हैं. तेजस्वी की जगह राजद की ओर से रैली में रामचंद्र पूर्वे शामिल हुए. मालूम हो कि तेजस्वी यादव पिछले माह भी माले की रैली में शामिल नहीं हुए थे.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पिछले जनादेश के साथ धोखाधड़ी की है. केवल विपक्ष का गठबंधन नहीं चाहिए, बल्कि राजनीति में भी बदलाव चाहिए. देश की जनता को बड़ी लड़ाई लड़नी है : दीपंकर भट्टाचार्य

नोटबंदी भाजपा के कालेधन को सफेद करने की योजना का हिस्सा थी. नोटबंदी और जीएसटी ने देश के भीतर 35 लाख कामगारों को बेरोजगार कर दिया : गुलाम नबी आजाद

आज लोकतंत्र खतरे में है. नीतीश कुमार ने जनता के विश्वास को धोखा देकर भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनायी है. केंद्र में अगर फिर से मोदी की सरकार बनी, तो भारत से लोकतंत्र का खात्मा हो जायेगा : शरद यादव

महागठबंधन को भूमि सुधार के मसलों पर निश्चित रूप से बंद्धोपाध्याय कमिटी रिपोर्ट की सिफारिश पर काम करना होगा. साथ ही समान शिक्षा प्रणाली लागू होनी चाहिए : जीतनराम मांझी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.