टी-20 वर्ल्ड कप / पेटदर्द के बावजूद हरमनप्रीत ने शतक लगाया, रनिंग से बचने के लिए लगाए छक्के-चौके

0
354

महिला टी-20 वर्ल्ड कप में भारत ने शुक्रवार रात न्यूजीलैंड को 34 रन से हरा दिया। इस मैच में भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर ने 51 गेंद में 103 रन बनाए। उन्होंने अपनी पारी के दौरान सात चौके और आठ छक्के लगाए, लेकिन मैच के दौरान वे पेटदर्द से परेशान दिख रहीं थीं। हालांकि, इसी पेटदर्द के कारण वे इतने लंबे छक्के और चौके लगा पाईं। मैच के बाद हरमनप्रीत ने बताया कि पेटदर्द से बचने के कारण ही उन्होंने ज्यादातर रन छक्के और चौके से बटोरे।
दौड़कर रन लेने से पेटदर्द बढ़ता इसलिए हरमनप्रीत ने बाउंड्री लगाने की योजना बनाई

पेट की मांसपेशियों में जकड़न होने पर सामान्य तौर पर कोई क्रिकेटर ड्रेसिंग रूम में लौटना पसंद करता, लेकिन हरमनप्रीत ने ऐसा नहीं किया। दौड़कर रन लेने से उनका पेटदर्द बढ़ता, इसलिए इससे बचने के लिए आठ छक्के और सात छक्के लगा डाले।

मैच के बाद भारतीय कप्तान हरमनप्रीत ने बताया, ‘गुरुवार को मेरी पीठ में थोड़ी परेशानी थी। शुक्रवार सुबह भी मैं खुद अच्छा नहीं महसूस कर रही थी। मैं जब मैदान पर आई तो थोड़ा असहज थी और कुछ जकड़न भी थी।’

उन्होंने बताया, ‘जकड़न के कारण मुझे दौड़कर रन लेने में दिक्कत हो रही थी, इसके बाद मैंने दूसरी योजना बनाई। मैंने जब शुरू में दो-दो रन लेने शुरू किए, तो मुझे थोड़ी जकड़न महसूस हुई। इसके बाद फिजियो ने मुझे दवा दी तब स्थिति थोड़ी ठीक हुई।’

भारतीय कप्तान के मुताबिक, ‘ऐसी स्थिति में मैंने सोचा कि ज्यादा दौड़ने की बजाय मुझे बड़े शॉट खेलने होंगे, क्योंकि मैं जितना ज्यादा दौड़ती जकड़न बढ़ती जाती। मैंने जेमिमा से कहा कि अगर तुम मुझे स्ट्राइक दोगी तो मैं अधिक बड़े शॉट खेल सकती हूं।’

हरमनप्रीत ने कहा, ‘मेरे दिमाग में यह नहीं था कि मैं कितने रन बना रही हूं, बस मेरा ध्यान इस पर था कि मैच जीतने के लिए हम कम से कम कितने और रन बना लें। हमें पता था कि न्यूजीलैंड की बल्लेबाजी काफी अच्छी है।’

उन्होंने बताया, ‘न्यूजीलैडं की टीम में सोफी डिवाइन और सूजी बेट्स जैसी बल्लेबाज हैं। हमें मालूम था कि सोफी और सूजी के रहते न्यूजीलैंड के लिए 150 रन का लक्ष्य हासिल करना बड़ी बात नहीं है। इसलिए हमें और बड़ा टारगेट देना होगा।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.