बॉक्सर मैरी कॉम ने रचा इतिहास, 5-0 से हराकर जीता छठा वर्ल्ड चैंपियनशिप खिताब

0
236

नई दिल्ली : भारत की दिग्गज खिलाड़ी एमसी मैरी कॉम ने शनिवार (24 नवंबर) को आईबा महिला विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप के10वें संस्करण में 48 किलोग्राम भारवर्ग का खिताब अपने नाम कर लिया. मैरी कॉम ने फाइनल में यूक्रेन की हना ओखोटा को 5-0 से मात देते हुए गोल्ड मेडल अपने नाम किया. हना मैरीकॉम से उम्र में 13 साल छोटी हैं. हना की उम्र 22 साल है जबकि मैरी कॉम की उम्र 35 साल है.

मैरीकॉम विश्व चैम्पियनशिप में सात के फाइनल में सात बार पहुंचने वाली दुनिया की पहली मुक्केबाज हैं. 2001 में उन्होंने सिल्वर जीता था, इसके बाद छह बार उन्होंने वर्ल्ड चैम्पियनशिप में गोल्ड जीता है. साल 2002 , 2005, 2006, 2008, 2010 और 2018 में उन्होंने गोल्ड मेडल हासिल किया है. इस जीत केबाद मैरीकॉम ने कहा, “ यूक्रेन की हना को हराना आसान नहीं था क्योंकि वे मुझसे काफी लंबी हैं.”

मैरी कॉम का यह छठा विश्व चैम्पियनशिप खिताब है तो वहीं विश्व चैम्पियनशिप में कुल आठवां पदक अपने नाम किया है. अपार अनुभव की धनी मैरीकॉम ने हाल में गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में गोल्ड मेडल अपने नाम किया था. उनके नाम एशियाई चैम्पियनशिप में भी पांच गोल्ड और एक सिल्वर मेडल हैं. मैरी कॉम ने मां बनने के बाद वापसी करते हुए कई अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में जीत का परचम लहराया.

ऐसा रहा क्वार्टरफाइनल से फाइनल तक का सफर
मैरीकॉम इस आईबा वुमन वर्ल्ड चैम्पियनशिप प्रतियोगिता की ब्रांड एमबैसेडर भी हैं. मैरीकॉम ने सेमीफाइल में गुरुवार को उत्तर कोरिया की किम हांग मी को हराया था, जबकि क्वार्टर फाइनल में उन्होंने चीन की वु यू को 5-0 से मात दी थी. पांच बार की विश्व चैम्पियन एमसी मैरीकॉम ने हाल में गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक अपने नाम किया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.