Wedding Insurance: शादी के लिए वेडिंग इंश्योरेंस पॉलिसी बहुत जरूरी, जानिए इसके फायदे

0
508

शादियों का सीजन शुरू हो गया है। 1 महीने बाद फिर से बड़े पैमाने पर शादियां होंगी। अगर आप भी इस साल इस वेडिंग सीज़न में शादी करने की प्लानिंग कर रहे हैं तो आप भी शादी तैयारी करने में बिजी होंगे। शादी के इंतजाम के दौरान कई तरह के काम करने पड़ते हैं और इसमें काफी खर्च भी होता है। माता-पिता अक्सर अपने बच्चों की शादी में अपनी जिंदगी भर की कमाई का एक बहुत बड़ा हिस्सा खर्च कर देते हैं।

इसलिए इस जश्न की तैयारी में होने वाले खर्च को इंश्योर करना जरूरी है। एक वेडिंग इंश्योरेंस आपके अन्य खर्चों के बीच एक एक्स्ट्रा खर्च जैसा लग सकता है लेकिन इसमें आपको किसी अनहोनी के कारण इस कार्यक्रम को कैंसल करने के कारण होने वाले नुकसान से बचाने की क्षमता है।

एक वेडिंग इंश्योरेंस पॉलिसी लेने के फायदे
एक वेडिंग इंश्योरेंस, पर्सनल एक्सीडेंट, मौत, अपाहिज होने, शादी कैंसल होने, वेडिंग स्पॉट के डैमेज होने, जैसे कारणों की वजह से शादी का कार्यक्रम कैंसल या पोस्टपोन होने के खिलाफ आपको कवरेज देता है। यह कवरेज आपको उन परिस्थितियों में भी आपकी रक्षा करता है जब कोई बेशकीमती मेटल या ज्वेलरी डैमेज हो जाता है।

कुछ इंश्योरेंस कंपनियां उन परिस्थितियों को भी कवर करती हैं जब दूल्हा दहेज़ की मांग पूरी न होने पर शादी करने से इनकार कर देता है। अलग-अलग इंश्योरेंस प्रोडक्ट्स के इनक्लुजंस और एक्सक्लुजंस अलग-अलग होने के बावजूद, कुछ मामले ऐसे हैं जो आम तौर पर सभी प्रोडक्ट्स में शामिल होते हैं / शामिल नहीं होते हैं। आइए इनमें से कुछ के बारे में यहाँ जानने की कोशिश करते हैं।

एक वेडिंग इंश्योरेंस पॉलिसी में ये चीजें शामिल होती हैं

चोरी, आग, इत्यादि के कारण, या वेडिंग स्पॉट को प्रभावित करने वाले भूकंप जैसी किसी प्राकृतिक आपदा के कारण शादी कैंसल या पोस्टपोन होने पर, वेडिंग इंश्योरेंस, कैटरर्स, डेकोरेटर्स को दिए गए एडवांस, होटल रिजर्वेशन, टिकट, कार्ड की प्रिंटिंग इत्यादि पर होने वाले खर्च को कवर करता है। इसके अलावा कुछ अन्य परिस्थितियों में भी कवरेज मिलते हैं जैसे पॉलिसी होल्डर को कोई चोट लग जाने पर, हॉस्पिटल में भर्ती होने पर, या मौत हो जाने पर, जिसकी वजह से वेडिंग स्पॉट पर पहुंचना मुश्किल हो।
सेंधमारी, भूकंप, आग, इत्यादि के कारण किसी इंश्योर्ड प्रॉपर्टी को होने वाला डैमेज या फिजिकल लॉस
पॉलिसी में नामदर्ज सभी लोगों को एक्सीडेंटल डेथ कवरेज दिया जाता है
परमानेंट पार्शियल डिसेबिलिटी या कम्प्लीट डिसेबिलिटी के मामले में पॉलिसी में नामदर्ज मेम्बर्स को कवर किया जाता है
वेडिंग स्पॉट में किसी एक्सीडेंट के कारण प्रॉपर्टी डैमेज होने पर और चोट लगने या मौत होने पर, पब्लिक लायबिलिटी, थर्ड पार्टियों को कवर करती है

एक वेडिंग इंश्योरेंस पॉलिसी में चीजें शामिल नहीं होती

दंगे या हड़ताल के कारण वेडिंग कैंसलेशन
वेडिंग कैंसलेशन के परिणामस्वरूप होने वाले नुकसान
वेडिंग स्पॉट पर पॉलिसी होल्डर के देर से पहुँचने के कारण किए गए क्लेम्स
इंश्योर्ड पर्सन्स की किडनैपिंग
सुसाइड या अपने आपको पहुंचाई गई चोट
युद्ध या आतंकवाद के कारण मौत या चोट

एक वेडिंग इंश्योरेंस का खर्च कितना है?

प्रीमियम का साइज कई बातों पर निभर्र करती है। इसमें शादी का स्तर, शादी की जगह और समय अवधि भी शामिल है। आमतौर पर, इंश्योरेंस कंपनियां अलग-अलग मामले के आधार पर आवश्यक कवरेज का पता लगाती हैं उसी हिसाब से प्रीमियम सेट करती हैं।

सामान्य तौर पर इसका प्रीमियम आपके सम अश्योर्ड का 1 फीसदी होती है। मान लीजिए आपने 20 लाख रुपए की शादी का इंश्योरेंस करवाया तो आपका प्रीमियम करीब 20 हजार के आसपास आ सकता है। देखने में ये रकम अनावश्यक खर्च लग सकती है पर सोंचिए अगर 20 लाख रुपए की शादी किसी भी कारण से कैंसिल हुई तो वो बहुत भारी नुकसान कर देगी। जिसका वापस आना मुश्किल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.