पहले ही दिन 48 दुकानों में छापेमारी, 150 किलो प्लास्टिक जब्त; कई जगह हंगामा

0
242

प्लास्टिक कैरी बैग पर पूरी तरह प्रतिबंध के पहले दिन शहरी क्षेत्र में जगह-जगह छापेमारी की गई। इस दौरान जुर्माना वसूली के साथ स्टॉक में रखी हुई पॉलीथिन भी जब्त की गई। वहीं, दूसरी ओर दुकानदारों ने छापेमारी दल का विरोध करते हुए जमकर हंगामा किया।

दोपहर 2 बजे नगर आयुक्त के आदेश पर सिटी मैनेजर ओमप्रकाश के नेतृत्व में छापेमारी दल ने सदर अस्पताल रोड में दुकानों की जांच शुरू की। दो दुकानों से टीम ने करीब 150 किलो प्लास्टिक कैरी बैग जब्त किया। साथ ही दो दुकानदारों को काफी मात्रा में प्लास्टिक कैरी बैग रखने के मामले में 4 हजार रुपए जुर्माना किया।

हालांकि, अलग-अलग दुकानों में छापेमारी शुरू होते ही एकजुट होकर दुकानदारों ने विरोध जताते हुए हंगामा शुरू कर दिया। कई दुकानदार अभियान पर आपत्ति जताते रहे, तो कई का कहना था कि निगम ने जो पॉलीथिन जब्त की है, वह लोकल पैकिंग मेटेरियल है। कई दुकानदारों ने छापेमारी दल से विभाग की ओर से जारी गाइडलाइन की मांग करने लगे।

हालांकि, सिटी मैनेजर ने बताया कि गाइडलाइन के अनुसार शहरी क्षेत्र में हर तरह के प्लास्टिक कैरी बैग पर प्रतिबंध है। दुकानदार यह मानने के लिए तैयार नहीं थे। अभियान के दौरान अलग-अलग जगहों पर कुल 48 दुकानों में छापेमारी की गई। पंकज मार्केट में छापेमारी दल को दुकानदारों ने घेर लिया। किसी तरह समझाने के बाद टीम वहां से निकल सकी। यही नहीं शाम में करीब 50 दुकानदार अपनी समस्या लेकर नगर निगम कार्यालय तक पहुंच गए।

सीजर लिस्ट मांग रहे थे दुकानदार
सदर अस्पताल रोड में हंगामा और पंकज मार्केट में हुए घेराव के बाद करीब 50 दुकानदार शाम के समय नगर निगम कार्यालय पहुंच गए। रविवार के कारण नगर आयुक्त नहीं थे। बाद में छापेमारी दल में शामिल टैक्स दारोगाओं के साथ दुकानदारों की काफी देर तक बहस हुई। दुकानदार सीजर लिस्ट की मांग कर रहे थे। उनका कहना था कि सिर्फ कैरी बैग पर प्रतिबंध है तो अलग-अलग उपयोग में आनेवाली पॉलीथिन क्यों जब्त की जा रही है।

छापेमारी दल को दुकानदारों ने घेरा
सदर अस्पताल, सरैयागंज, पंकज मार्केट व कल्याणी चौक के पास पहले दिन छापेमारी हुई। पंकज मार्केट में दल को दुकानदारों ने घेर लिया। वे अपनी समस्याएं रख रहे थे। हालांकि, टीम का कहना था कि गाइडलाइन के अनुसार टीम काम कर रही है। प्लास्टिक का बहिष्कार कर निगम के सहयोग की अपील की। काफी समझाने के बाद टीम वहां से निकल सकी। टीम में सिटी मैनेजर ओमप्रकाश, टैक्स दारोगाओं अशोक सिंह, रामनरेश यादव, सुशील कुमार, उमेश कुमार व कौशल किशोर थे।

इधर, चोरी-छिपे इस्तेमाल
शहर के कई इलाकों में प्लास्टिक कैरी बैग पर प्रतिबंध को लेकर दुकानदार और ग्राहकों के बीच चर्चा तो खूब रही। लेकिन चोरी-छिपे इस्तेमाल भी होता रहा। शहर के कंपनीबाग और जवाहरलाल रोड में कई फल व सब्जी के दुकानदार ग्राहक को पॉलीथिन में रखे सामान को तेजी से गाड़ी की डिक्की में रखने की बात कह रहे थे। हालांकि, अधिकतर ने पॉलीथिन देने से स्पष्ट रूप से इनकार कर दिया।

थैले के लिए मांग रहे 5 रु.
शहर में बड़ी दुकानों से लेकर फुटपाथी दुकानों में कई जगह प्लास्टिक कैरी बैग प्रतिबंध का पोस्टर लग गया है। दुकानदार पॉलीथिन देने से हाथ खड़े कर रहे हैं। कई नए थैला के लिए 1 से 5 रुपए ले रहे हैं। पहले दिन इसे लेकर कई जगहों पर ग्राहक और दुकानदार के बीच बहस भी हुई। दुकानदार भी लोगों को झोला लेकर निकलने की सलाह दे रहे थे। पर्यावरण और सेहत के लिए प्रतिबंध को सफल बनाना हर किसी की जिम्मेदारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.