LoC के अंदर हमला करने आई थी PAK की BAT टीम, सेना ने ऐसे किया ढेर

0
2087

नए साल से पहले हिंदुस्तान की जमीन पर दहशत फैलाने के पाकिस्तानी आतंकियों के इरादों को भारतीय सेना ने नेस्तानाबूद कर दिया है. भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर मौजूद लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) पर 30 दिसंबर को नौगाम सेक्टर में भारतीय जवानों ने पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की. इस कार्रवाई में दो घुसपैठियों को मार गिराया गया है. जबकि काफी बड़ी मात्रा में हथियार बरामद हुए हैं.

बताया जा रहा है कि पाकिस्तान की BAT टीम एलओसी के पास जंगलों में भारी असले के साथ आ रही है, जब ये बॉर्डर के पास थे तो पाकिस्तानी सेना ने उनके कवर के लिए लगातार फायरिंग भी की. ये एक्शन करलकोट इलाके में हुआ है, सूत्रों की मानें तो घुसपैठिए एलओसी के 300 मीटर अंदर तक आ गए थे.

न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक, भारतीय फौजियों ने पाकिस्तान की बैट टीम के इस हमले को नाकाम कर दिया. इस हमले में भारत ने दो BAT टीम के जवानों को भी मार गिराया है. और कई हथियार बरामद किए हैं. बैट टीम के ऑपरेशन को नाकाम करने के बाद सेना के जवानों ने जंगल की छानबीन की.

सेना ने इस घुसपैठ पर कहा कि घुसपैठियों ने फौजियों के कपड़े पहने हुए थे और उनके पास काफी सामान था. उनके पास से काफी हथियार बरामद हुए हैं, जो चीजें बरामद हुई हैं उससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि ये भारतीय सेना की पोस्ट पर हमला करने के लिए आ रहे थे.

सेना का कहना है कि क्योंकि पाकिस्तानी सेना इस BAT टीम को प्रोटेक्शन दे रही थी, इसलिए हम उनसे अपील करेंगे कि वे अपने दो घुसपैठियों की लाश वापस ले.

क्या है ‘BAT’?

‘बैट’ (BAT) का पूरा नाम बॉर्डर एक्शन टीम है. इसके बारे में सबसे पहले अगस्त 2013 की दरमियानी रात को पता लगा था. तब इस टीम ने एलओसी पर पेट्रोलिंग कर रही भारतीय सेना की टुकड़ी को निशाना बनाया था.

दरअसल यह PAK की स्पेशल फोर्स से लिए गए सैनिकों का एक ग्रुप है. हैरानी की बात ये है कि BAT में सैनिकों जैसी ट्रेनिंग पाए आतंकी भी हैं. ये LoC में 1 से 3 किलोमीटर तक अंदर घुसकर हमला करने के लिए तैयार किया गया है.

‘बैट’ को स्पेशल सर्विस ग्रुप यानी एसएसजी ने तैयार किया है. यह पूरी प्लानिंग के साथ अटैक करती है. ये टीम पहले खुफिया तौर पर ऑपरेशनों को अंजाम देती थी लेकिन बाद में मीडिया की वजह से खबरों में रहने लगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.