पहली बार गणतंत्र दिवस परेड में बिहार के 162 बच्चों को मिलेगा मौका, राजपथ पर बिहार के बच्चे दिखायेंगे प्रतिभा

0
157

देश भर के तमाम आयोजनों और मंचों पर अपना हुनर दिखा चुके किलकारी के बच्चों को अपना प्रदर्शन दिखाने का एक और मौका मिला है. 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के परेड में हर साल दिल्ली के स्थानीय बच्चों के साथ देश के सर्वश्रेष्ठ कम-से-कम एक दल हो ही प्रदर्शन करने का मौका मिलता है. इस बार यह मौका किलकारी के बच्चों को मिला है. इससे पहले कुछ ऐसे भी मौके आये थे, जब गणतंत्र दिवस ंसमारोह में बिहार की झांकी का चयन नहीं हो पाता था. ऐसे में राज्य के इन बच्चों को सांस्कृतिक प्रस्तुति के लिए मौका मिलना बड़ी बात है. दिल्ली में करेंगे पूर्वाभ्यास : जारी आदेश के अनुसार गणतंत्र दिवस की झांकी के बाद दिल्ली के तीन स्थानीय स्कूलों की प्रस्तुति होगी. इसके बाद बाहरी राज्यों से इजेडसीसी के बैनर के साथ किलकारी के 150 बच्चाें की प्रस्तुति होगी. चार जनवरी को 151 बच्चे अौर 11 स्कॉट दिल्ली प्रस्थान करेंगे. सभी बच्चे अपने प्रदर्शन का पूर्वाभ्यास करेंगे, जिसके बाद 26 जनवरी को राजपथ पर इनकी प्रस्तुति होगी. भाग लेने वाले बच्चों में पटना से 98, गया से 22, भागलपुर से 19, दरभंगा से 12 बच्चे शामिल हैं. इस प्रस्तुति में किलकारी के बच्चे महात्मा गांधी के सपनों व संदेशों पर आधारित स्वच्छता गीत को प्रस्तुत करेंगे. इसे किलकारी के ही छात्र यशरंजन सिन्हा ने लिखा है. नृत्य करने वाले बच्चे महात्मा गांधी के संदेशों पर आधारित गीत को अपने भावों से व्यक्त करने की कोशिश करेंगे. नृत्य संयोजन किलकारी के दीपक कुमार व अमरनाथ ने किया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.