स्मृति इरानी बोलीं- राम भक्त कांग्रेस से करें सवाल, क्या सिर्फ चुनाव के लिए ‘जनेऊ’

0
245

केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी दोनों ही शुक्रवार को अमेठी के दौरे पर हैं। ऐसे में अमेठी में सियासी पारे का चढ़ना तय है। उधर, अमेठी पहुंचने से पहले इरानी ने लखनऊ में राम मंदिर और राफेल डील पर कांग्रेस और राहुल गांधी दोनों को निशाने पर लिया। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर सियासी हलचल तेज है। पीएम नरेंद्र मोदी ने पिछले दिनों अपने एक इंटरव्यू में कांग्रेस पर इस मुद्दे में सुप्रीम कोर्ट में अड़ंगा लगाने का आरोप लगाया था। वहीं अब कैबिनेट मंत्री स्मृति इरानी ने भी इस मुद्दे पर कांग्रेस और पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा है। इरानी ने कहा कि देश की जनता यह समझ रही है कि इस मुद्दे पर कांग्रेस क्या राजनीति कर रही है। इरानी ने कहा कि देश की जनता और खासकर राम भक्तों को अब कांग्रेस से सवाल करना चाहिए कि क्या जनेऊ सिर्फ इसलिए धारण किया था ताकि तीन राज्यों में चुनाव करवा सकें। राहुल गांधी के गढ़ अमेठी पहुंचने से पहले लखनऊ में पत्रकारों से बातचीत में इरानी ने राहुल गांधी पर तंज भी कसा। इरानी ने कहा कि राहुल गांधी का अमेठी दौरे में देरी करना, इस बात का संकेत है कि जो अपने संसदीय क्षेत्र में समय पर नहीं आ सकता, वह देश की जनता को समय पर समाधान कैसे दे पाएगा। बता दें कि राहुल गांधी भी शुक्रवार को अमेठी के दौर पर पहुंच रहे हैं। राफेल के मुद्दे पर पीएम मोदी पर ट्वीट के जरिए राहुल गांधी के हमले पर पलटवार करते हुए कैबिनेट मंत्री ने कहा कि देश की जनता कांग्रेस की असलियत समझ चुकी है। उन्होंने कहा कि कमरे में छिपकर ट्वीट करना आसान है। बता दें कि पिछले 15 दिनों में स्मृति का अमेठी में यह दूसरा दौरा है। इससे पहले वह अमेठी को 77 करोड़ रुपये की योजनाओं की सौगात दे चुकी हैं। बीते दिनों बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भी अमेठी में एक जनसभा की थी। शुक्रवार को इरानी यहां राघवराम सेवा संस्थान द्वारा कंबल वितरण कार्यक्रम में हिस्सा लेंगी। बीजेपी के लोकसभा संयोजक राजेश मसाला ने पिछले दिनों बताया था कि इरानी यहां आवासीय विद्यालय की आधारशिला भी रखेंगी। इसके अलावा कुछ अन्य कार्यक्रमों में भी वह शामिल होंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.