पटना : शहर की मुख्य सड़कों की डिवाइडर व फुटपाथों पर लगाये जायेंगे ग्रिल

0
219

पटना : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि राज्य की सभी सड़कों के डिवाइडरों और फुटपाथों पर ग्रिल लगाये जाएं. इसके लिए उचित कार्रवाई करने के लिए पथ निर्माण विभाग को आदेश दिया. सीएम सोमवार को लोक संवाद कार्यक्रम में आम लोगों से सुझाव ले रहे थे. इस दौरान आठ लोगों ने सुझाव दिये. इस पर पथ निर्माण के प्रधान सचिव अमृत लाल मीणा ने कहा कि इस मामले में पहले से कार्रवाई की जा रही है.

सड़क को अतिक्रमण और दुर्घटना से बचाने के लिए यह पहल की जा रही है. जितनी भी नयी सड़कें बन रही हैं, वहां यह व्यवस्था की जा रही है. राजधानी के सगुना मोड़ पर ग्रिल लगाये गये हैं. बुद्ध मार्ग समेत अन्य इलाकों में यह लगाये जा रहे हैं. इस मामले को लेकर फुलवारीशरीफ के अजय गुप्ता ने सुझाव दिया था. उन्होंने कोलकाता की तर्ज पर पटना समेत अन्य बड़े शहरों की सड़कों पर ग्रिल लगाने का सुझाव दिया.

कार्यक्रम में राज्य के विभिन्न क्षेत्रों से आये आठ लोगों ने दिये सुझाव

पर्यटन स्थलों के विकास का सीएम ने दिया आदेश

सीएम ने वैशाली जिले में मौजूद ऐतिहासिक पुष्करणी सरोवर की खराब हालत पर आश्चर्य प्रकट करते हुए इसे विकसित करने के लिए तुरंत कार्रवाई करने का आदेश दिया. पर्यटन सचिव रवि परमार को कहा कि वे संबंधित अधिकारियों की टीम लेकर जाएं और हर हाल में इसे विकसित करने के लिए पहल शुरू कर दें.

ऑन स्पॉट जाकर पूरी स्थिति की जांच करें. इस मामले पर मुजफ्फरपुर जिले के सरैया के जयप्रकाश कुमार ने सुझाव दिया कि पुष्करणी सरोवर में पानी सुख गया है और इसकी हालत बेहद खराब है. सीएम ने पर चिंता जताते हुए कहा कि यह बेहद दुखद है. उन्होंने वैशाली के ऐतिहासिक स्थलों को विकसित करने की बात कही. यहां एक दर्शन संग्रहालय और पत्थर के स्तूप का निर्माण कराया जा रहा है.

l सड़क खोदने के लिए संबंधित विभाग से एनओसी लेने का सुझाव : समस्तीपुर के दलसिंहसराय के धर्मेश कुमार ने कहा कि 6 अगस्त, 2018 को भी अपने जिले के पर्यटन स्थल के विकास की समस्या लेकर आये थे, लेकिन अब तक कार्रवाई नहीं हुई.

इस पर सीएम ने विभागीय सचिव से कारण पूछा. सचिव ने कहा कि पूरे स्थल को संरक्षित करने की प्रक्रिया 15 मार्च तक पूरी हो जायेगी. मुंगेर और भागलपुर को विकसित करने से संबंधित प्रस्ताव मुंगेर के ही रवि कुमार ने दिया. सीएम ने उनके प्रस्ताव को सुनने के बाद विभागीय सचिव से मिलने के लिए कहा. गया जिला के डोभी के सिद्धार्थ कुमार ने बोधगया का विकास करने के लिए खास कार्ययोजना प्रस्तुत की.

उन्हें नगर विकास एवं आवास विभाग और पर्यटन विभाग के सचिव से संयुक्त रूप से मिलने के लिए कहा गया. समस्तीपुर के अंगोरवाट के रमेशचंद्र राय ने बिजली की बचत और बक्सर के विशाल ठाकुर ने बक्सर किला को क्षरण से बचाने के लिए पहल करने की बात कही.

सीएम ने जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को कहा कि बक्सर किला के क्षरण की जाकर जांच करें और तुरंत उचित कार्रवाई करें. सीतामढ़ी के राहुल कुमार ने सड़क खोदने के लिए संबंधित विभाग से एनओसी लेने का सुझाव दिया, ताकि सड़क बनने के बाद इसे कोई तोड़ नहीं सके.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.