आरकॉम का शेयर इंट्रा-डे में 54% लुढ़का, दिवालिया प्रक्रिया में जाने के ऐलान का असर

0
227

मुंबई( SPK desk). अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशंस (आरकॉम) के शेयर में सोमवार को 54% गिरावट आ गई। एनएसई पर यह 5.30 रुपए के सबसे निचले स्तर पर फिसल गया। बीएसई पर शेयर 48% गिरावट के साथ 6 रुपए पर पहुंच गया। हालांकि, निचले स्तरों से शेयर में रिकवरी आई लेकिन फिर भी 35% नुकसान के साथ बंद हुआ। कर्ज नहीं चुका पाने की वजह से आरकॉम ने शुक्रवार को कहा था कि वह दिवालिया प्रक्रिया शुरू करना चाहती है। इसलिए कंपनी के शेयर में सोमवार को तेज गिरावट आ गई।
अनिल अंबानी की दूसरी कंपनियों के शेयरों में भी सोमवार को तेज गिरावट आ गई। रिलायंस पावर 29.22% टूट गया। रिलायंस कैपिटल में 19.37% नुकसान दर्ज किया गया। रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर 16.51% और रिलायंस नेवल एंड इंजीनियरिंग में 13.70% गिरावट आ गई।

नकदी के संकट से जूझ रही अनिल आरकॉम संपत्ति बेचकर कर्ज चुकाने में विफल रही है। ऐसे में कंपनी के बोर्ड ने इन्सॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड (आईबीसी) के तहत नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) के जरिए फास्ट-ट्रैक रेजोल्यूशन प्रोसेस में जाने का विकल्प चुना है। कंपनी बोर्ड का मानना है कि यह कदम सभी संबंधित पक्षों के हित में होगा। इससे 270 दिन की तय अवधि में आरकॉम की संपत्ति बेचकर कर्ज के भुगतान की पारदर्शी प्रक्रिया सुनिश्चित हो सकेगी।

आरकॉम पर 46,000 करोड़ रु. का कर्ज है। कंपनी ने शुक्रवार को कहा कि बोर्ड ने संपत्ति बेचकर कर्ज चुकाने की योजना की समीक्षा की। इसमें पाया कि 18 माह बाद भी प्रस्तावित योजना से कर्जदाताओं को कुछ नहीं मिल पाया है। यह योजना 2 जून 2017 को बनाई गई थी।

आरकॉम को असेट बेचकर 25,000 करोड़ रुपए मिलने की उम्मीद थी। वहीं, टेलीकॉम विभाग की मंजूरी नहीं मिलने की वजह से आरकॉम और जियो की डील भी अटकी हुई है। इससे 975 करोड़ रुपए मिलने की उम्मीद थी। इसमें से उसने 550 करोड़ रुपए एरिक्सन को और 230 करोड़ रुपए रिलायंस इन्फ्राटेल को चुकाने का वादा किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.