इस बार सेंट्रल हॉल में होगा राज्यपाल का अभिभाषण

0
373

सोमवार से शुरू हो रहे विधान सभा के द्वादश सत्र के सुचारू संचालन के लिए अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी की अध्यक्षता में वरीय पदाधिकारियों की उच्चस्तरीय बैठक हुई। इसमें अध्यक्ष ने पदाधिकारियों को बिहार विधान सभा परिसर एवं आसपास सुरक्षा चाक चौबंद रखने का निर्देश दिया। उन्होंने बताया कि इस बार नई परंपरा की शुरूआत हो रही है। राज्यपाल का अभिभाषण बिहार विधान मंडल के सेंट्रल हॉल में होगा। उन्होंने बिहार विधान सभा सचिवालय द्वारा सदस्यों के प्रश्नों का उत्तर ऑनलाईन उपलब्ध कराये जाने के संबंध में अपनायी गयी व्यवस्था के तहत विभागों के प्रतिनियुक्त नोडल पदाधिकारियों से ब्यौरा मॉंगा। इस दौरान उन्होंने ग्रामीण कार्य, शिक्षा, स्वास्य, कृषि तथा खाद्य एवं तथा उपभोक्ता संरक्षण विभाग द्वारा प्रश्नों के उत्तर ऑनलाईन सभा सचिवालय को उपलब्ध कराने में बरती जा रही शिथिलता पर कड़ी नाराजगी जाहिर की। अध्यक्ष ने कहा कि वे सब इस कार्य को अति गंभीरता एवं संवेदनशीलता से जिम्मेवारीपूर्वक करें ताकि सदन में प्रश्नों का निस्तारण तेजी से हो सके। इससे सदन की सार्थकता बढ़ेगी। बैठक में हारूण रशीद, कार्यकारी सभापति, विधान परिषद् एवं संसदीय कार्य मंत्री श्रवण कुमार, विधान सभा के सचिव बटेवर नाथ पांडेय एवं विधान परिषद् के कार्यकारी सचिव बिनोद कुमार, राज्य के मुख्य सचिव दीपक कुमार, आमिर सुबहानी, अपर मुख्य सचिव, गृह विभाग, गाोपाल मीणा, श्रमायुक्त, बिहार, कुंदन कृष्णन, अपर पुलिस महानिदेशक तथा अन्य विभागों के पदाधिकारी भी मौजूद थे। वही, विधान सभा के दलीय नेताओं की बैठक भी हुई। इसकी अध्यक्षता करते हुए विधान सभाध्यक्ष ने दलीय नेताओं से बजट सत्रा के निर्बाध एवं सुचारू संचालन तथा सदन में सार्थक विमर्श हेतु सबके सहयोग की अपेक्षा की। उन्होंने सभी दलों से अनुरोध किया कि जनहित में कम से कम प्रश्नकाल को बाधित नहीं किया जाना चाहिए, ताकि जन समस्याओं के निराकरण में सदन में सरकार सहित सभी सदस्य अपनी महती भूमिका निभा सकें। बैठक में सभी दलीय नेताओं ने सर्वसम्मति से सदन चलाने पर सहमति प्रदान की। बैठक में मंत्री विजेन्द्र प्रसाद यादव, भाजपा की ओर से अरुण कुमार सिन्हा, राजद की ओर से आलोक मेहता, भारतीय राष्ट्रीय कॉंग्रेस की ओर से विजय शंकर दुबे, रालोसपा की ओर से सुधांशु शेखर एवं लोजपा की ओर से राजू तिवारी तथा बटेवर नाथ पांडेय, सचिव, बिहार विधान सभा भी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.