Airtel के 100 रु और 500 रु के टॉकटाइम रिचार्ज पैक्स की हुई वापसी, पढ़ें बेनिफिट्स

0
127

Vodafone dea और Bharti Airtel ने कुछ समय पहले अपने पोर्टफोलियो से टॉक टाइम रीचार्ज को हटा दिया था। इससे यूजर्स काफी नाराज थे। इन दोनों कंपनियों ने यह कदम पिछले वर्ष अक्टूबर में उठाया था। इस फैसले से धीरे-धीरे इनके यूजर्स भी इनका साथा छोड़ रहे थे। हालांकि, अपने यूजरबेस को बनाए रखने और ग्राहकों को खुश करने के लिए Airtel धीरे-धीरे वापसी कर रही है। इसके तहत कंपनी ने 100 रुपये और 500 रुपये के प्रीपेड टॉक टाइम रिचार्ज पैक्स को फिर से पेश किया है। आपको बता दें कि 100 रुपये और 500 रुपये के रिचार्ज पैक को यूजर्स द्वारा ज्यादा मात्रा में इस्तेमाल किया जाता है।

ये दोनों प्लान्स My Airtel app पर देखे जा सकते हैं। इन प्लान्स को अनलिमिटेड वैधता के साथ पेश किया गया है। यूजर्स को 100 रुपये के रिचार्ज में 81.75 रुपये का टॉकटाइम दिया जा रहा है। वहीं, 500 रुपये के रिचार्ज में 420.73 रुपये का टॉकटाइम दिया जा रहा है। टॉकटाइम प्लान्स को हटाने से कंपनी ने कई यूजर्स को खोया है। इन्हीं यूजर्स वापस लाने और मौजूदा यूजर्स को बनाए रखने के लिए कंपनी ने 100 रुपये और 500 रुपये के प्रीपेड टॉक टाइम रिचार्ज पैक की वापसी की है।

 

 

इससे पहले Airtel ने दो नए प्लान्स पेश किए थे जो लंबी वैधता के साथ आते हैं। ये प्लान्स केवल प्रीपेड यूजर्स के लिए ही वैध हैं। इनकी कीमत 597 रुपये और 998 रुपये है। यह ओपन मार्केट प्लान्स हैं। इनका लाभ नए व मौजूदा यूजर्स द्वारा उठाया जा सकता है।

 

Airtel 597 और 998 रुपये का प्लान:

इस प्लान के तहत यूजर्स को अनलिमिटेड नेशनल और लोकल वॉयस कॉलिंग बेनिफिट्स दिए जाएंगे। इसमें कोई भी FUP लिमिट नहीं दी गई है। इसके अलावा 6 जीबी डाटा (पूरी वैधता के दौरान) और 300 एसएमएस (हर महीने) दिए जाएंगे। इस प्लान की वैधता 168 दिनों की है। इसके साथ ही प्लान में Airtel TV ऐप का फ्री एक्सेस दिया जाएगा। इसके अलावा 998 रुपये के प्लान में भी यूजर्स को अनलिमिटेड नेशनल और लोकल वॉयस कॉलिंग बेनिफिट्स दिए जाएंगे। इसमें कोई भी FUP लिमिट नहीं दी गई है। इसके साथ ही 12 जीबी डाटा पूरी वैधता के दौरान दिए जाएंगे। वहीं, 300 एसएमएस हर महीने दिए जाएंगे। इस प्लान की वैधता 336 दिनों की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.