नहीं बाज आ रहा पाक, LOC के पास तीसरे दिन भी की गोलीबारी, भारत ने दिया करारा जवाब

0
136

जम्मू: संघर्ष विराम का उल्लंघन कर पाकिस्तानी सेना ने लगातार तीसरे दिन गोलीबारी की है. पाकिस्तान की सेना ने जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में गुरुवार को नियंत्रण रेखा के पास अग्रिम चौकियों और नागरिक इलाकों में गोलीबारी की.

अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तान की सेना ने पुंछ सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास मोर्टार से गोले दागे और छोटे हथियारों से गोलीबारी की. अधिकारियों ने कहा कि भारतीय सेना ने करारा जवाब दिया.

उन्होंने कहा कि रजौरी और पुंछ जिलों में पिछले 24 घंटे के दौरान नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्तान की सेना ने संघर्ष विराम उल्लंघन की पांच घटनाओं को अंजाम दिया.

बुधवार को राजौरी जिले में की थी गोलीबारी
बात दें जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान की सेना ने लगातार दूसरे दिन बुधवार को संघर्षविराम का उल्लंघन किया था. हालांकि इसका करारा जवाब भारतीय सेना ने दिया. एक रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि करीब छह बजकर 30 मिनट पर बिना किसी उकसावे के पाकिस्तानी सेना ने भारी गोलीबारी, करके संघर्ष विराम का उल्लंघन किया. यह गोलीबारी राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा के कलाल और नौशेरा सेक्टर में हुई.

मंगलवार को राजौरी के नौशेरा सेक्टर में की थी गोलीबारी
इससे पहले मंगलवार को भी पाकिस्तान की सेना ने राजौरी के नौशेरा सेक्टर में गोलीबारी की थी. रक्षा विभाग के एक प्रवक्ता ने मुताबिक,’पाकिस्तान की सेना ने रजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास शाम करीब सात बजे छोटे हथियारों से गोलीबारी कर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया.’

 

जारी है पाक की तरफ से संघर्ष विराम का उल्लंघन 
अधिकारियों ने बताया कि भारत-पाक फ्लैग मीटिंग में संयम बरतने और 2003 के संघर्ष विराम उल्लंघन का पालन करने की बार-बार की अपील के बावजूद पाकिस्तान ने संघर्ष विराम उल्लंघन जारी रखा है. नए साल की शुरुआत से ही पाकिस्तान के सैनिक जम्मू संभाग में नियंत्रण रेखा के पास नियमित रूप से संघर्ष विराम उल्लंघन कर रहे हैं. जनवरी में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास भी संघर्ष विराम उल्लंघन के कुछ मामले सामने आए थे. भारत-पाक सीमा के पास पिछले 15 वर्षों में सबसे ज्यादा संघर्ष विराम उल्लंघन की घटनाएं 2018 में हुईं. 2018 में संघर्ष विराम उल्लंघन की 2936 घटनाएं सामने आईं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.