सीरिया में 200 अमेरिकी सैनिक बने रहेंगे

0
143

वाशिंगटन, | अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सीरिया से अमेरिकी सेना की वापसी के आदेश के बाद युद्ध प्रभावित देश में अमेरिका की एक छोटी सैन्य टुकड़ी बनी रहेगी। व्हाइट हाउस ने यह घोषणा की। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सांडर्स ने गुरुवार को एक बयान में कहा, “सीरिया में 200 सैनिकों की एक छोटी टुकड़ी कुछ समय के लिए बनी रहेगी।”

सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार, दिसंबर में ट्रंप ने यह कहते हुए अमेरिकी सेना के सीरिया से पूरी तरह और बहुत जल्दी बापस लौटने की घोषणा कर दी थी कि अमेरिका ने आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) का पूरी तरह खात्मा कर दिया है।

अमेरिका के सैन्य अधिकारी ने सीएनएन को बताया कि सीरिया में रुकने वाले 200 सैनिकों की टुकड़ी को ईराक-जॉर्डन सीमा के निकट एक क्षेत्र एट-टैंफ और पूर्वोत्तर सीरिया में विभाजित होगी।

पूर्वोत्तर सीरिया में रुके सैनिक वर्तमान में कुर्दो की अगुआई वाले सीरियाई डेमोक्रेटिक बलों को सलाह देती है।

उन्होंने कहा कि सीरिया में रुकने वाले 200 अमेरिकी सैनिकों को सैन्यतंत्र, खुफिया सहायता, सर्विलांस, पूर्व परीक्षण और हवाई हमले करने की शक्तियों जैसी दी जाएंगी जिससे फ्रांस और इंग्लैंड जैसे सहयोगी देशों को भी अपनी सेनाएं सीरिया में रोकने का साहस मिलेगा जिससे लगभग 1,500 अंतर्राष्ट्रीय सैनिकों की मदद से उसे सुरक्षित क्षेत्र सुनिनिश्चत करने में मदद मिले।

सीरिया में अमेरिका के फिलहाल लगभग 2,000 सैनिक हैं जो वहां आईएस के खिलाफ अभियान में सीरियाई डेमोक्रेटिक बलों की सहायता कर रहे हैं।

सीरियाई बलों के अनुसार, आईएस सीरिया में अब यूफ्रेट्स नदी से लगे एक कस्बे में सिर्फ 700 वर्गमीटर क्षेत्र में ही सिमट गए हैं।वाशिंगटन, 22 फरवरी (आईएएनएस)| अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सीरिया से अमेरिकी सेना की वापसी के आदेश के बाद युद्ध प्रभावित देश में अमेरिका की एक छोटी सैन्य टुकड़ी बनी रहेगी। व्हाइट हाउस ने यह घोषणा की। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सांडर्स ने गुरुवार को एक बयान में कहा, “सीरिया में 200 सैनिकों की एक छोटी टुकड़ी कुछ समय के लिए बनी रहेगी।”

सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार, दिसंबर में ट्रंप ने यह कहते हुए अमेरिकी सेना के सीरिया से पूरी तरह और बहुत जल्दी बापस लौटने की घोषणा कर दी थी कि अमेरिका ने आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) का पूरी तरह खात्मा कर दिया है।

अमेरिका के सैन्य अधिकारी ने सीएनएन को बताया कि सीरिया में रुकने वाले 200 सैनिकों की टुकड़ी को ईराक-जॉर्डन सीमा के निकट एक क्षेत्र एट-टैंफ और पूर्वोत्तर सीरिया में विभाजित होगी।

पूर्वोत्तर सीरिया में रुके सैनिक वर्तमान में कुर्दो की अगुआई वाले सीरियाई डेमोक्रेटिक बलों को सलाह देती है।

उन्होंने कहा कि सीरिया में रुकने वाले 200 अमेरिकी सैनिकों को सैन्यतंत्र, खुफिया सहायता, सर्विलांस, पूर्व परीक्षण और हवाई हमले करने की शक्तियों जैसी दी जाएंगी जिससे फ्रांस और इंग्लैंड जैसे सहयोगी देशों को भी अपनी सेनाएं सीरिया में रोकने का साहस मिलेगा जिससे लगभग 1,500 अंतर्राष्ट्रीय सैनिकों की मदद से उसे सुरक्षित क्षेत्र सुनिनिश्चत करने में मदद मिले।

सीरिया में अमेरिका के फिलहाल लगभग 2,000 सैनिक हैं जो वहां आईएस के खिलाफ अभियान में सीरियाई डेमोक्रेटिक बलों की सहायता कर रहे हैं।

सीरियाई बलों के अनुसार, आईएस सीरिया में अब यूफ्रेट्स नदी से लगे एक कस्बे में सिर्फ 700 वर्गमीटर क्षेत्र में ही सिमट गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.