उमरिया (मप्र),भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने एक बार फिर इशारों में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि देश में चुनाव किसी परिवार के शहजादे को गद्दी पर बिठाने के लिए नहीं, बल्कि 50 करोड़ गरीब परिवारों के जीवन में नया प्रकाश लाने के लिए होना चाहिए। मध्य प्रदेश के उमरिया में शनिवार को ‘विजय संकल्प बाइक महारैली’ का शुभारंभ करते हुए शाह ने महागठबंधन को ‘ठगबंधन’ करार देते हुए कहा कि सारी पाíटयां जाति, धनबल, बाहुबल, परिवारवाद व तुष्टिकरण के आधार पर चुनाव लड़ती हैं। लेकिन भाजपा लोकसंपर्क के आधार पर चुनाव लड़ती है। जब सरकार में रहें तब जनकल्याण और जब चुनाव में जाएं, तो जनसंपर्क ही भाजपा का तरीका है।

उन्होंने कहा कि जनसंपर्क के दौरान लोगों को यह बताना चाहिए कि चुनाव का मुद्दा क्या है, या फिर चुनाव क्यों होना चाहिए? क्या चुनाव सिर्फ इसलिए होना चाहिए कि किसी की उम्र बढ़ रही है और उसे प्रधानमंत्री बनना है? या सिर्फ इसलिए होना चाहिए कि कोई परिवार अपने शहजादे को गद्दी पर बिठाना चाहता है। क्या चुनाव इसलिए होना चाहिए कि कोई अपने परिवार को फिर से सत्ता में लाना चाहता है?

शाह ने पाकिस्तान के विमान को मार गिराने वाले विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान की वापसी का स्वागत किया।

उन्होंने कहा कि चुनाव देश के लिए होना चाहिए। भाजपा का मानना है कि चुनाव देश के 50 करोड़ गरीबों के जीवन में नया प्रकाश लाने के लिए होना चाहिए। चुनाव देश के अर्थतंत्र को गति देने के लिए होना चाहिए। चुनाव देश को महाशक्ति बनाने के लिए होना चाहिए। चुनाव देश के गौरव को बढ़ाने के लिए होना चाहिए। चुनाव देश की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए होना चाहिए, चुनाव पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए होना चाहिए।

भाजपा अध्यक्ष ने देश की सुरक्षा से लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपलब्धियों तक का जिक्र करते हुए कहा, “देश को सुरक्षित कौन रख सकता है? देश के सम्मान और इसके गौरव को कौन बढ़ा सकता है? देश को दुनिया की सबसे तेज बढ़ती अर्थव्यवस्था और एक महाशक्ति कौन बना सकता है? क्या 23 पाíटयों का महागठबंधन ये काम कर सकता है? इन सभी सवालों का एक ही जवाब है और वो है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। इसलिए देश की सुरक्षा और उसके स्वाभिमान के लिए सभी कार्यकर्ता नरेंद्र मोदी को एक बार फिर देश का प्रधानमंत्री बनाने का संकल्प लें।”

शाह ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा, “देश की जनता ने 70 साल मिलावट वाले दलों का शासन देखा है, जिनमें से 55 साल राहुल बाबा के परिवार का शासन रहा है। लेकिन इन 70 सालों में कुछ नहीं हुआ। अब सारे विपक्षी नेता हमारी एयर फोर्स ने जो एयर स्ट्राइक की है, उस पर सवाल उठा रहे हैं।”

उन्होंने राहुल गांधी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला करते हुए कहा कि देश के जवानों के पराक्रम के कारण पाकिस्तान को चार दिन बड़े भारी पड़े हैं। जब देश पर संकट हो तब राजनीति नहीं करनी चाहिए। विपक्षी दलों को वोट बैंक की राजनीति नहीं करनी चाहिए, भाजपा जब विपक्ष में थी, तब उसने किसी तरह के सवाल नहीं उठाए।

इस मौके पर भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह, नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवराज सिंह चौहान सहित कई नेता मंच पर मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.