नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश लोकसभा चुनाव के मद्देनज़र सबसे महत्वपूर्ण राज्य है. सूबे की 80 लोकसभा सीट किसी भी पार्टी को सत्ता में शीर्ष पर बिठाने में अहम योगदान निभा सकती है. कांग्रेस भी इस बात को भली-भंती जानती है. इसलिए कांग्रेस की महासचिव और पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी बनाए जाने के बाद से ही प्रियंका गांधी वाड्रा लगातार उत्तर प्रदेश के दौरे कर रहीं हैं.

इसी क्रम में आज वह राम की नगरी अयोध्या पहुंचेंगी. इससे पहले भी उन्होंने यूपी में विंध्यवासिनी मंदिर में पूरे फैनफेयर और कैमरों के बीच पूजा-अर्चना की थी. इसके बाद पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में ताल ठोकते हुए बाबा विश्वनाथ के मंदिर में पूजा की थी.

प्रियंका इस बीच निषाद समाज के लोगों से लंबी बातचीत भी की थी. निषादों को आश्वस्त किया कि कांग्रेस राज लौटता है तो उन्हें ‘मुख्यधारा’ से जोड़ा जाएगा. सबसे बड़ी बात उन्होंने ये कही कि कांग्रेस की सरकार बनती है तो निषादों के लिए अलग से मंत्रालय बनेगा. इतना ही नहीं प्रियंका ने अपने भाई और कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ मिलकर राजधानी लखनऊ में एक रोड शो के जरिए भी अपना शक्ति प्रदर्शन किया.

आज अयोध्या में प्रियंका

उत्तर प्रदेश में ‘राम मंदिर’ सबसे महत्वपूर्ण मुद्दों में से एक है. बीजेपी को कांग्रेस इस मुद्दे पर बैकफुट पर धकेलने की कोशिश में है. इसी के मद्देनज़र प्रियंका का आज का अयोध्या दौरा काफी अहम है. बता दें कि प्रियंका शिव के बाद अब राम के शरण में जा रहीं हैं. दरअसल उन्होंने तीन दिवसीय पूर्वांचल दौरे की शुरूआत संगमनगरी प्रयागराज से की थी. सबसे पहले उन्होंने संगम तट पर हनुमान मंदिर में पूजा की. इसके बाद उन्होंने अपनी ”गंगा यात्रा” शुरू की. बाद वह मनैया घाट से स्‍टीमर के जरिए वाराणसी के लिए रवाना हो गईं.

शिव नगरी वाराणसी में प्रियंका ने काशी विश्वनाथ मंदिर में रुद्राभिषेक किया. दशाश्वमेध घाट पर गंगा आरती की और होलिका की पूजा भी की. इसके बाद उन्होंने अस्सी घाट पर लोगों को संबोधित करते हुए मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला है.

अब पिछले बीते बुधवार से प्रियंका गांधी एक बार फिर उत्तर प्रदेश के चुनावी दौरे पर हैं. उन्होंने राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी से अपना संपर्क अभियान शुरू किया है. प्रियंका बुधवार को लखनऊ होते हुए अमेठी पहुंचीं. एक दिन बाद गुरुवार को उन्होंने सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली का दौरा किया. अब शुक्रवार यानी आज वह अयोध्या पहुंचेंगी.

क्यों है प्रियंका का अयोध्या दौरा महत्वपूर्ण

प्रियंका का अयोध्या दौरा हो या प्रयागराज और वाराणसी का दौरा, इन सभी से कांग्रेस का ‘हिन्दू विरोधी छवी’ सुधारने की कोशिश है. दरअसल हिन्दुत्व के मुद्दे पर कांग्रेस इस बार बीजेपी के पिच पर ही खेल कर उसे हराने के फेर में है.

क्या है आज का कार्यक्रम

अयोध्या दौरे के दौरान वह हनुमानगढ़ी मंदिर में दर्शन करेंगी और रोड शो में भाग लेंगी. कार्यक्रम समन्वयक मोना मिश्र ने बताया है कि कुमारगंज, हरदोईया, आदिलपुर, नउवाकुआं में नुक्कड़ सभा और चौपाल का कार्यक्रम आयोजित किया गया है. उन्होंने बताया कि इसके अलावा वह रोड शो भी करेंगी. कुमारगंज से प्रियंका गांधी का रोड शो शुरू होगा और अयोध्या के हनुमागढ़ी में समाप्त होगा. प्रियंका गांधी करीब साढ़े पांच घंटे अयोध्या में रहेंगी. हनुमानगढ़ी में प्रियंका पूजा अर्चना करेंगी. उनके रोड शो को लेकर एसपीजी ने कार्यक्रम स्थलों का निरीक्षण किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.