चुनावी मौसम में काले धन पर शिकंजा, EC ने अब तक 1582 करोड़ रुपये की नकद राशि, सोना और शराब जब्त किये

0
74

नई दिल्ली: चुनावी मौसम में कालेधन पर शिकंजा जारी है. प्रशासन ने तमिलनाडु के सलेम में बस से साढ़े तीन करोड़ रुपये बरामद किया है. इसके साथ ही आंध्र के प्रकाशम में 70 लाख और चित्तूर में 39 लाख रुपये जब्त किये गए. चुनाव आयोग ने अब तक 377.511 करोड़ रुपये कैश जब्त किया है. इसके अलावा 157 करोड़ की शराब, 705 करोड़ रुपए की ड्रग्स और 312 करोड़ की कीमती धातुएं बरामद का जा चुकी हैं.

तमिनाडु में बस तिरुवन्नमलई से आ रही थी. आयकर विभाग ने बताया कि बरामद रुपये किसकी है, इसकी हम जांच कर रहे हैं. तीन दिन पहले तमिलनाडु के वेल्लोर से इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने छापेमारी में एक सीमेंट गोदाम से 15 करोड़ रुपये बरामद किए थे.

ये मामला कथित तौर पर एक DMK नेता से जुड़ा हुआ बताया जा रहा था. हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हो पाई थी. वहीं पुलिस ने चित्तूर में 39 लाख रुपये जब्त किये गए. मामले की जांच आयकर विभाग को सौंप दी गई है.

नोएडा में भी कैश जब्त
आदर्श आचार संहिता को लागू कराने के उद्देश्य से बनाई गई स्टेटिक सर्विलांस टीम ने बुधवार को चेकिंग के दौरान एक फॉरूचूनर कार से 18 लाख 40 हजार रुपए बरामद किए. इस मामले की जानकारी आयकर विभाग को दे दी गई है.

पूर्वोत्तर में 1.96 करोड़ रुपये नकद जब्त
लोकसभा चुनाव से पहले पूर्वोत्तर में बैंकों में संदिग्ध जमा और निकासी हो रही है. आयकर विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बुधवार को यह बात कही. आदर्श आचार संहिता के 10 मार्च को लागू होने के बाद से पूरे क्षेत्र मे कम-से-कम 1.96 करोड़ रुपये नकद जब्त किये गये हैं. आयकर विभाग के प्रधान निदेशक (जांच) संजय बहादुर ने कहा कि 112 जिलों और 12 हवाई अड्डों की निगरानी के लिए पूरे पूवोत्तर में 150 से अधिक अधिकारी तैनात किये गये हैं.

अधिकारी ने कहा कि संदिग्ध नकदी लेनदेन को छिपाने के लिए बैंकों को सुरक्षित माध्यम के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है, जो पांच बड़े बैंकों से 10 दिनों के डेटा हासिल करने के बाद प्रकाश में आया.

कांग्रेस ने बुधवार को दावा किया कि अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू के काफिले की एक कार से 1.80 करोड़ रुपये जब्त किये गए. कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘‘अरुणाचल में पासीघाट के निकट मुख्यमंत्री के काफिले की जांच होने पर कुल 1.8 करोड़ रुपये बरामद हुए हैं. इससे जुड़े सनसनीखेज वीडियो सोशल मीडिया और दूसरे माध्यमों पर उपलब्ध हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.