फ्रेंच अखबार का दावा- राफेल डील के बाद फ्रांस में अंबानी का 1100 करोड़ टैक्स माफ, कांग्रेस का पीएम पर हमला

0
112

नई दिल्ली: राफेल विवाद तमने का नाम नहीं ले रहा है,इस मामले में फ्रेंच अखबार की रिपोर्ट से आज एक बड़ा मोड़ आया. फ्रेंच अखबार ला मोंडे ने रिपोर्ट की रिपोर्ट के मुताबिक फ्रांस सरकार ने राफेल सौदे की घोषणा के बाद अंबानी की एक कंपनी का करीब 143 मिलियन यूरो का टैक्स माफ कर दिया. रिपोर्ट के मुताबिक अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस एटलांटिक फ्लैग फ्रांस पर 2007 ले 2010 के बीच टैक्स का करीब 60 मिलियन यूरो बनता था, जो 2015 में बढ़कर 151 मिलियन यूरो यानि करीब 1182 करोड़ रुपए हो गया था.

अखबार ने अनिल अंबानी को लेकर क्या रिपोर्ट छापी है?
अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक 2015 में मोदी सरकार की राफेल डील के बाद फ्रांस ने अनिल अंबानी के टैक्स में करीब 143.7 मिलियन यूरो यानि करीब 1125 करोड़ रुपया की छूट दी. रिपोर्ट के मुताबिक राफेल डील की घोषणा के करीब 6 महीने बाद फ्रांस ने टैक्स के सेटलमेंट के तौर पर अनिल अंबानी से 7.3 मिलियन यूरो यानि करीब 56 करोड़ रुपए लिए.

रिपोर्ट में लिखा है कि 2007-2010 के बीच 60 मिलियन यूरो के टैक्स के एवज में अनिल अंबानी ने 7.6 मिलियन यूरो देने की पेशकश की थी जिसे फ्रांस के टैक्स अधिकारियों ने ठुकरा दिया था. इसी तरह 2010 से 2012 के बीच फ्रांस के टैक्स अधिकारियों ने फिर जांच की और अनिल अंबानी की कंपनी से 151 मिलियन यूरो टैक्स की मांग की थी.

सफाई: रिलायंस ने कहा- नियमों के मुताबिक हुआ सैटलमेंट
7इन आरोपों पर रिलायंस ने जवाब भी दिया और कहा कि मामला 10 साल पुराना है. फ्रांस के टैक्स विभाग ने 1100 करोड़ से ज्यादा का टैक्स मांगा था वो गैरकानूनी था. मामला 56 करोड़ पर सैटल कर लिया गया है, रिलायंस ने अपने बयान में यह भी कहा कि इस मामले में किसी तरह का लाभ नहीं लिया गया.

अखबार की रिपोर्ट पर कांग्रेस का पीएम पर हमला
रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि ला मोंडे की रिपोर्ट से ‘मनी ट्रेल’ का खुलासा हो गया है और यह साबित हो गया कि प्रधानमंत्री मोदी ने राफेल मामले में ‘अनिल अंबानी के बिचौलिए’ का काम किया है. सुरजेवाला ने कहा, ‘ फ्रांस के अखबार में सनसनीखेज खुलासा हुआ है. क्या मनी ट्रेल सामने आ गई है? क्या मोदी अपने मित्र डबल ए (अनिल अंबानी) के बिचौलिए के रूप में काम कर रहे हैं? क्या अब चौकीदार की चोरी पकड़ी गई है? ‘

सुरजेवाला ने कहा, ’10 अप्रैल 2015 को मोदी फ्रांस जाते हैं और 36 विमान खरीदने का सौदा करते हैं. इसके कुछ दिन बाद ही 14 करोड़ यूरो से अधिक का कर माफ कर दिया जाता है.’ उन्होंने दावा किया, ‘यह मोदी जी की कृपा है. मोदी जी की कृपा जिस पर हो जाए उसका कुछ भी सकता है. मोदी है तो मुमकिन है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.