कपर्टिनो (कैलिफोर्निया), दुनिया की प्रमुख प्रौद्योगिकी कंपनियों में शुमार एप्पल के सीईओ टिम कुक ने एक बार फिर कहा है कि उनके लिए भारतीय बाजार काफी अहम है।कुक को उम्मीद है कि आने वाले दिनों में भारत में उनका विनिर्माण कार्य शुरू होने और नए स्टोर खुलने के बाद कंपनी को काफी फायदा होगा। 

उन्होंने कहा कि देश में कंपनी के ब्रांडेड रिटेल स्टोर खुलने के साथ आने वाले दिनों में आईफोन के मौजूदा विनिर्माण में अधिकतम वृद्धि होगी। 

कुक ने कहा कि कंपनी ने भारत में कुछ समायोजन किया है और आरंभ में उसके बेहतर नतीजे आए हैं। 

उन्होंने कहा, “लंबी अवधि में भारत काफी महत्वपूर्ण बाजार है। अल्पावधि में यह चुनौतीपूर्ण बाजार है, लेकिन हम बहुत कुछ सीख रहे हैं।”

एप्पल के सीईओ ने कहा, “हमने वहां (भारत) विनिर्माण कार्य शुरू कर दिया है, जो सही ढग से बाजार की खपत की पूर्ति करने के लिए काफी जरूरी है।”

एप्पल ने भारत में विनिर्माण की अपनी योजना को बढ़ावा देते हुए बेंगलुरू स्थित अपने आपूर्तिकर्ता विस्ट्रन के केंद्र में आईफोन-7 की असेंबलिंग शुरू कर दी है। 

कुक ने भारत में कंपनी के ब्रांडेड स्टोर खोलने पर भी जोर दिया। 

उन्होंने कहा, “हम वहां रिटेल स्टोर खोलेंगे और हम इसकी मंजूरी के लिए सरकार से बातचीत कर रहे हैं। इसलिए हमने अपनी पूरी ताकत के साथ वहां जाने की योजना बनाई है।”

एप्पल धीरे-धीरे भारतीय बाजार में अपनी गहरी पैठ बनाने की योजना बना रही है। जाहिर है कि भारत में 45 करोड़ लोग स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं, जिनमें ज्यादातर एंड्रॉयड हैं और वह भी चीन से आते हैं। 

भारत में जब स्मार्टफोन खरीदने की बात आती है तो कीमत सबसे अहम कारक रहती है। 

काउंटरपॉइंट रिसर्च के एसोसिएट डायरेक्टर तरुण पाठक के अनुसार, एप्पल के लिए एक नई शुरुआत है जब कंपनी असंबेलिंग का काम स्थानीय स्तर पर शुरू करने जा रही है। 

पाठक ने आईएएनएस से कहा, “इसे 400 डॉलर से अधिक के कीमत वर्ग में हो रहे विस्तार का लक्ष्य बनाने की आवश्यकता है।”

पिछला एक साल भारत में एप्पल के लिए कठिन दौर रहा, जब उसकी बाजार हिस्सेदारी 2019 की पहली तिमाही में घटकर एक फीसदी से कम हो गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.