IPL सीजन 12 : धोनी ने एक बार फिर चेन्नई को पहुंचाया टॉप पर, रैना और ताहिर का भी योगदान, दिल्ली को दी 80 रनों से मात

0
73

चेन्नई- चेन्नई सुपर किंग्स ने बुधवार को अपने घर एमए. चिदम्बरम स्टेडियम में खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें सीजन के मैच में दिल्ली कैपिटल्स को 80 रनों से मात दे एक बार फिर आठ टीमों की तालिका में पहले स्थान पर कब्जा जमा लिया. चेन्नई की इस जीत के हीरो सुरेश रैना (59), लेग स्पिरन इमरान ताहिर (12-4) और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (नाबाद 44) रहे. रैना और धोनी की पारियों के दम पर चेन्नई ने बेहद धीमी शुरुआत से बाहर निकलते हुए 20 ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर 179 रन बनाए थे और फिर ताहिर की अगुआई में चेन्नई ने दिल्ली को 16.2 ओवरों में 99 रनों पर ढेर कर दिया.

धोनी ने अंत में किया कमाल

धोनी ने अंत में 22 गेंदों पर चार चौके और तीन छक्के मार चेन्नई को मजबूत स्कोर तक पहुंचाया. धोनी ने न सिर्फ बल्ले से बल्कि अपनी विकेटकीपिंग से भी टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई. इस मैच में धोनी की बिजली जैसी फुर्ती से रवींद्र जडेजा को दो अहम विकेट मिले इसमें दिल्ली के लिए सबसे ज्यादा 44 रन बनाने वाले कप्तान श्रेयस अय्यर का विकेट शामिल है. चेन्नई के लिए ताहिर के अलावा जडेजा ने तीन, दीपक चाहर और हरभजन सिंह ने एक-एक विकेट लिए.

नहीं चल पाई दिल्ली की बल्लेबाजी

अय्यर ने 31 गेंदों का सामना किया जिन पर चार पर चौके और एक पर छक्का मारा. उन्हें दूसरे छोर से साथ नहीं मिला. वह सिर्फ शिखर धवन (19) के साथ दूसरे विकेट के लिए 48 रन की साझेदारी ही कर पाए लेकिन इस साझेदारी के बाद अय्यर सिर्फ विकटों को पतन देख रहे थे. धवन और अय्यर की साझेदारी चार के कुल स्कोर पर पृथ्वी शॉ (4) का विकेट गिरने के बाद आई थी जिन्हें दीपक ने अपना शिकार बनाया.

अय्यर ने धवन के साथ मिलकर टीम का स्कोर किसी तरह 52 तक पहुंचाया लेकिन हरभजन ने धवन और ताहिर ने ऋषभ पंत (5) का विकेट लेकर दिल्ली को फिर दबाव में ला दिया. फिर जडेजा ने कोलिन इनग्राम (1), ताहिर ने अक्षर पटेल (9) और शेरफने रदरफोर्ड (2) के विकेट ले दिल्ली का स्कोर छह विकेट के नुकसान पर 83 रन कर दिया.

स्टम्पिंग के मामले में धोनी का कोई जवाब नहीं

यहां एक बार फिर धोनी की बिजली जैसी तेजी देखने को मिली. धोनी ने जडेजा की गेंद पर क्रिस मौरिस (0) को तुरंत स्टम्पिंग किया और फिर एक रन बाद अय्यर को अपनी तेजी से स्टम्पिंग कर पवेलियन में बैठा दिया. दिल्ली की हार तय थी बस औपचारिकताएं मात्र रह गई थीं. शेन वाटसन ने सुचित जगदीशन (6) को सीधी थ्रो पर रन आउट कर दिल्ली को हार के मुहाने पर धकेल दिया. दिल्ली के ताबूत में आखिरी कील भी धोनी ने ताहिर की गेंद पर अमित मिश्रा (8) का कैच पकड़ कर ठोकी.

चेन्नई एक बार फिर टॉप पर

इस जीत के साथ ही चेन्नई एक बार फिर अंकतालिका में पहले स्थान पर आ गई है. उसके 13 मैचों में नौ जीत और चार हार के साथ 18 अंक हैं. दिल्ली 13 मैचों में आठ जीत और पांच हार के साथ 16 अंक लेकर दूसरे स्थान पर आ गई है.

इससे पहले बल्लेबाजी का न्यौता मिलने पर पहली पारी खेलने उतरी चेन्नई को रैना, जडेजा, फाफ डु प्लेसिस और धोनी ने तेज तर्रार पारियों ने बेहद धीमी शुरुआत से बाहर निकाल दमदार स्कोर दिया. रैना ने 37 गेंदों पर आठ चौके और एक छक्के की मदद से बेहतरीन पारी खेली. जडेजा ने 10 गेंदों पर दो छक्के और दो चौकों की मदद से 25 रन बनाए.
चेन्नई को बेहद धीमी शुरुआत मिली. टीम ने छह ओवरों में 27 ही बनाए थे और वाटसन (0) के रूप में एक विकेट भी खो दिया.

चेन्नई के लिए अच्छी बात यह थी कि फाफ डु प्लेसिस मैदान पर थे. पैर जमाने के बाद डु प्लेसिस ने बड़े शॉट लगाने शुरू किए, लेकिन वह ज्यादा देर तक ऐसा नहीं कर पाए और 14वें ओवर की तीसरी गेंद पर अक्षर पटेल का शिकार बने. उन्होंने 41 गेंदों की पारी में दो चौके और इतने ही छक्कों की मदद से 39 रन बनाए. अगले ओवर में रैना ने एक्सीलेटर पर पैर रखा और सुचित के ओवर की पहली तीन गेंदों पर एक चौका और दो छक्के जड़े. पांचवीं गेंद को भी बाहर भेजने के प्रयास में रैना, शिखर धवन के हाथों लपके गए. रैना ने 37 गेंदों पर आठ चौके और एक छक्का मारा.

यहां से जडेजा और धोनी ने आक्रामक रुख अख्तियार किया और लंबे-लंबे शॉट्स लगाए. आखिरी पांच ओवरों में चेन्नई ने 77 रन बनाए और सिर्फ एक विकेट खोया. इन 77 रनों में से आखिरी के ओवर में ही अकेले 21 रन आए जो सिर्फ धोनी ने बनाए. इस ओवर में धोनी ने दो छक्के और एक चौका मारा.

दिल्ली के लिए सुचित ने दो विकेट लिए. क्रिस मौरिस, अक्षर पटेल को एक-एक सफलता मिली.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.