नई दिल्ली, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सर्जिकल स्ट्राइक्स की वीडियो गेम से तुलना कर देश की सेनाओं का अपमान करने का आरोप लगाया।यहां पार्टी कार्यालय पर एक संवाददाता सम्मेलन संबोधित करते हुए गांधी ने कहा, “सेना मोदी जी की निजी संपत्ति नहीं है। मोदी जी सोचते हैं कि भारतीय वायु सेना, नौसेना और थल सेना उनकी निजी संपत्तियां हैं।”

उन्होंने कहा, “ये सर्जिकल स्ट्राइक्स मोदी जी ने नहीं सेना ने की हैं। और अगर मोदी जी कहते हैं कि पूर्व की सर्जिकल स्ट्राइक वास्तविक सर्जिकल स्ट्राइक नहीं बल्कि वीडियो गेम थीं तो वे कांग्रेस का नहीं बल्कि सैन्य बलों का अपमान कर रहे हैं।”

गांधी ने यह भी कहा कि मीडिया को अगर रिकॉर्ड चाहिए तो वे यहां लिखे हैं। जनरल विक्रम सिंह ने कहा है कि संप्रग सरकार ने 2008 से 2014 के बीच छह सर्जिकल स्ट्राइक्स की और सर्जिकल स्ट्राइक्स की तारीखें बताई हैं।

उन्होंने कहा, “यह सेना ने किया है और हम इसका राजनीतिकरण नहीं करना चाहते। प्रधानमंत्री को सैन्य बलों का सम्मान करना होगा।”

कांग्रेस अध्यक्ष का बयान प्रधानमंत्री द्वारा एक जनसभा में की गई टिप्पणियों के अगले दिन आया है जिसमें उन्होंने कहा था कि सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाने वाली पार्टी अब ‘मीटू मीटू’ बोल रही है। मोदी ने मजाकउड़ाते हुए यह भी कहा था कि, “यह वीडियो गेम नहीं है।”

कांग्रेस नेता ने यह भी कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) लोकसभा चुनावों में हार रही है।

उन्होंने कहा, “आधे से ज्यादा चुनाव हो चुके हैं और साफ महसूस किया जा सकता है कि मोदी जी हार रहे हैं। इस चुनाव में मुख्य मुद्दे बेरोजगारी, प्रधानमंत्री का भ्रष्टाचार है। हमारा आकलन स्पष्ट बता रहा है कि भाजपा चुनाव हार रही है।”

उन्होंने कहा, “लोगों के सामने सबसे बड़ा मुद्दा बेरोजगारी और मोदी सरकार द्वारा बरबाद की गई अर्थव्यवस्था है और देश तथा राहुल गांधी इसे समझना चाहते हैं। राहुल गांधी कुछ नहीं है। देश सबसे बड़ी चीज है।”

उन्होंने कहा, “मोदी जी ने कहा था कि वे प्रतिवर्ष लगभग दो करोड़ से ज्यादा लोगों को रोजगार देंगे। वहीं कांग्रेस के घोषणापत्र में पूरा चैप्टर ही रोजगार पर है। इसमें हमने बताया है कि हम इसे कैसे करेंगे और क्या करेंगे।”

प्रधानमंत्री पर हमला बोलते हुए गांधी ने कहा, “मोदी जी का पूरा तंत्र अव्यवस्थित है। हमने चार से पांच चुनावों में उन्हें टक्कर दी है। हम उनके खिलाफ गुजरात, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ में लड़े हैं। उन्हें बहुत जल्द पता चल जाएगा कि वे नहीं जीतेंगे तब वे कुछ नया लाएंगे।”

उन्होंने कहा, “वास्तविकता ये है कि मोदी जी चुनाव हार रहे हैं और यह उनके चेहरे पर दिख रहा है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.