प्रियंका गांधी का PM मोदी पर हमला, कहा- ’50 घंटे भी तपस्या की होती तो नफरत की बात न करते’

0
57

नई दिल्ली: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जोरदार हमला बोला. प्रियंका गांधी ने कहा कि अगर पीएम मोदी ने तपस्या की होती तो वह नफरत भरी टिप्पणी नहीं करते. अपने पति रॉबर्ट वाड्रा के साथ रविवार को मतदान करने के बाद उन्होंने कहा, “अगर उन्होंने (मोदी) 50 घंटों की भी तपस्या की होती तो वह इस तरह की नफरत भरी टिप्पणी नहीं करते.” बता दें कि प्रियंका गांधी पीएम मोदी के उस बयान पर टिप्पणी कर रही थीं जिसमें उन्होंने 45 साल के तपस्या की बात कही थी.

स्पष्ट हो गया है कि बीजेपी चुनाव हार रही है-प्रियंका

पीएम मोदी ने कहा था, “यह 45 सालों की तपस्या है, जिसने उनकी यह छवि बनाई है, और इसमें खान मार्केट गैंग या लुटियन क्लब का योगदान नहीं है.” कांग्रेस महासचिव ने दावा किया कि इस बार बीजेपी सत्ता से बाहर हो जाएगी. उन्होंने कहा कि देश की जनता, विशेषकर उत्तर प्रदेश की जनता बीजेपी सरकार से खुश नहीं है. प्रियंका ने कहा, “यह स्पष्ट हो गया है कि बीजेपी चुनाव हार रही है. उम्मीद है कि दिल्ली में भी परिणाम अच्छे आएंगे.”

पिछले लोकसभा चुनाव के दौरान किए वादों पर चुप्पी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जुबानी हमला करते हुए उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी का चुनाव प्रचार बीजेपी के चुनाव प्रचार जितना नकारात्मक नहीं है. कांग्रेस सकारात्मक सोच रखती है और हमेशा मुद्दों की बात करती है. इतिहास की बातें कर ज्वलंत मुद्दों से ध्यान भटकाने की कोशिश सिर्फ बीजेपी करती है.

लगातार महत्वहीन मुद्दों पर बोले जा रहे हैं मोदी- प्रियंका

प्रियंका गांधी ने कहा, “हमने आम आदमी को प्रभावित करने वाले असली मुद्दे उठाए और उनके समाधानों पर बात की, वहीं पीएम मोदी लगातार महत्वहीन मुद्दों पर बोले जा रहे हैं.” प्रियंका गांधी ने विपक्ष के सवालों का जवाब न देने के लिए भी मोदी की आलोचना की. कांग्रेस महासचिव ने कहा, “प्रधानमंत्री उनसे पूछे गए सवालों के जवाब नहीं देते हैं. उन्हें 15 लाख रुपये देने, हर साल दो करोड़ रोजगार देने और किसानों की आय पर जवाब देना चाहिए. वे कांग्रेस अध्यक्ष द्वारा विभिन्न मुद्दों पर बहस की दी गई चुनौती पर भी चुप हैं. कहां चला गया छप्पन इंच का सीना.”
प्रियंका गांधी के बेटे रेहान ने कल मतदान नहीं किया था. इस सवाल पर उन्होंने कहा, “वह इसलिए वोट नहीं कर सके क्योंकि वह परीक्षा देने लंदन गए हैं.” प्रियंका अपने पति रॉबर्ट वाड्रा के साथ मध्य दिल्ली के लोधी एस्टेट इलाके में स्थित मतदान केंद्र (विद्या भवन महाविद्यालय) में अपने मताधिकार का उपयोग किया.

बता दें कि लोकसभा चुनाव के छठे चरण में रविवार को सात राज्यों की 59 संसदीय सीटों पर मतदान हुआ. राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली की सभी सात सीटों पर मतदान हुआ है, जहां बीजेपी, कांग्रेस और आप के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.