2020 से पहले iPhone यूजर्स को नहीं मिलेगा 5G फोन, खुद का चिप लाने में लग सकता है 6 साल का वक्त

0
63

नई दिल्ली: प्रीमियम स्मार्टफोन मार्केट में एपल को भारी नुकसान सहना पड़ रहा है जहां पहले ही कंपनी को चीन और भारत से झटका लग चुका है तो वहीं अब ये भी कहा जा रहा है कि भारत में अब सस्ती कीमत पर एपल के आईफोन बनाए जाएंगे जहां कंपनी चीन से प्लांट लाकर भारत में लगाने की प्लानिंग कर रही है. लोगों का अभी भी ये मानना है कि आईफोन की कीमत तो बढ़ रही है लेकिन उनके मुताबिक फीचर्स वो नहीं मिल पा रहे हैं.

जबकि भारत में प्रीमियम स्मार्टफोन मार्केट में अभी भी वनप्लस और सैमसंग जैसी कंपनियों को जलवा है. इस बीच 5G फोन लॉन्च करने की भी योजना बनाई जा रही है. जहां पहले ही यूके, चाइना और जापान जैसे देश 5जी कनेक्टिविटी लेकर आ गए हैं. इस बीच एपल की तरफ से ये खबर आई है कि कंपनी 2020 से पहले 5G फोन लॉन्च नहीं करेगी.

2020 में आईफोन लाने के लिए भी कंपनी को 5G चिप की जरूरत होगी, जिसे बनाने में एपल को करीब 6 साल लगेंगे. एपल 2020 में क्वालकॉम की मदद से 5G आईफोन जरूर ला सकता है क्योंकि पहले वह क्वालकॉम के साथ काम कर चुका है.

इससे पहले रॉयल्टी को लेकर एपल और क्वालकॉम के बीच अमेरिका, चीन, जर्मनी और बाकी देशों कानूनी लड़ाई चल रही थी और अब ये कानूनी झगड़े खत्म हो गए हैं. इसका मतलब है कि एपल अब आईफोन में क्वालकॉम के मॉडेम चिप यूज कर सकता है. ग्लोबल पेटेंट लाइसेंस और चिपसेट सप्लाई का एग्रीमेंट दोनों कंपनियों के बीच हुआ है. इसके साथ ही इंटेल भी 5G फोन बिजनस से बाहर जाने वाला है, ऐसा माना जा रहा है.

इसके बाद एपल ने क्वालकॉम के साथ मिलकर स्मार्टफोन चिप बनाना शुरू कर दिया था. लेकिन अब एपल इंटेल के चिप से खुश नहीं है और कहा जा रहा है कि वो उसे खरीदने के लिए राजी भी नहीं. ऐसे भी कुछ भी हो सकता है. इन्हीं सब परेशानियों को देखते हुए एपल 5G डिवाइस लाने में पीछे छूट सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.