आंध्र प्रदेश में भाजपा, कांग्रेस को भारी नुकसान

0
169

अमरावती, आंध्र प्रदेश में हुए चुनाव में मुख्य मुकाबला वाईएसआर कांग्रेस पार्टी और तेलुगू देशम पार्टी के बीच रहा, भाजपा व कांग्रेस को भारी नुकसान उठाना पड़ा।इस राज्य में कांग्रेस का हाथ लगातार दूसरी बार विधानसभा और लोकसभा, दोनों चुनावों में खाली रहा।

वर्ष 2014 के चुनाव में भाजपा का तेदेपा के साथ गठबंधन था। मगर इस बार गठबंधन न होने के कारण उसे कुछ भी हासिल नहीं हुआ। वर्ष 2014 के विधानसभा चुनाव में उसका मत प्रतिशत 2.18 था जो घटकर 0.84 प्रतिशत रह गया। लोकसभा चुनाव में उसे एक प्रतिशत से भी कम मत हासिल हुए।

पिछले साल मार्च में तेदेपा ने भाजपा से गठबंधन तोड़ लिया था।

पिछले विधानसभा और लोकसभा चुनावों में लोगों की नाराजगी झेल चुकी कांग्रेस को उम्मीद थी कि इस बार अपना वजूद बचा पाएगी, लेकिन वर्ष 2014 के चुनाव में जहां उसे 2.77 प्रतिशत मत मिले थे जो इस बार मात्र 1.17 प्रतिशत सिमट गया।

राज्य की 175 सदस्यीय विधानसभा में 151 सीटें जीतकर वाईएसआर कांग्रेस पार्टी सत्ता पर काबिज हो गई है। इसने लोकसभा की 25 में से 22 सीटें जीतकर संसद में भी अपनी स्थिति मजबूत कर ली है। तेदेपा को विधानसभा की 23 और लोकसभा की तीन सीटों पर जीत मिली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.