ओडिशा: लोकसभा चुनाव में PM मोदी पर लोगों ने जताया भरोसा, विधानसभा में नवीन पटनायक हैं पसंद

0
127

भुवनेश्वर: ओडिशा में हुए लोकसभा और विधानसभा के एक साथ चुनाव में यहां की जनता ने अलग-अलग परिणाम दिए हैं. विधानसभा में जहां सीएम नवीन पटनायक 112 सीटें जीतकर पांचवीं बार मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं. वहीं, लोकसभा चुनाव में पार्टी को करारा झटका लगा है. लोकसभा की 21 सीटों में बीजेडी इस बार सिर्फ 12 सीटें जीतने में कामयाब हो पाई है जबकि बीजेपी को राज्य में 8 सीटें मिली हैं. कांग्रेस को सिर्फ एक सीट पर जीत मिली है. पिछले लोकसभा चुनाव में बीजेडी राज्य में 20 सीटें जीती थी. बता दें कि ओडिशा में विधानसभा की 147 और लोकसभा की 21 सीटें हैं.

भुवनेश्वर लोकसभा सीट पर बीजेपी को मिली जीत-
विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 23 और कांग्रेस को केवल नौ सीटों पर जीत मिली है. वीआईपी भुवनेश्वर लोकसभा सीट पर, बीजेपी उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ने वाली पूर्व आईएएस अधिकारी अपराजिता सारंगी को विभाजित वोटों का लाभ मिला. उन्होंने इस सीट पर अपने बीजेडी प्रतिद्वंदी और मुंबई पुलिस के पूर्व आयुक्त अरुप पटनायक को 23 हजार से अधिक मतों से हराया. यहां गौर करने वाली बात ये है कि लोकसभा सीट जीतने के बावजूद भुवनेश्वर लोकसभा क्षेत्र के सातों विधानसभा सीट बीजेपी को हार मिली है.

बता दें कि भुवनेश्वर में अपराजिता सारंगी को 4,86,991 मत (48.45 प्रतिशत) मिले, जबकि इस लोकसभा सीट के अंतर्गत आने वाली सातों विधानसभा सीटों पर खड़े सभी बीजेपी कैंडिडेट को मिलाकर कुल 2,90,607 वोट यानी 29.3 फीसदी वोट ही मिले. इसी तरह कोरापुट लोकसभा सीट पर कांग्रेस उम्मीदवार सप्तगिरि उल्लाका ने जीत दर्ज की, लेकिन इस लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली ज्यादातर सीटों पर बीजेडी ने जीत हासिल की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.