ढाई साल की बच्ची की हत्या से उबल रहा है देश, राहुल की मांग- न्याय के लिए तेजी से काम करे यूपी पुलिस

0
53

अलीगढ़: उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में ढाई साल की बच्ची की हत्या से पूरे देश में गुस्से का माहौल है. सोशल मीडिया पर लोग अलग-अलग तरीके से अपने गुस्से का इजहार कर रहे हैं. इसी सिलसिले में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी घटना पर प्रतिक्रिया जाहिर की है. उन्होंने कहा है कि कोई इंसान कैसे एक छोटी बच्ची के साथ इस तरह की घटना को अंजाम दे सकता है. उन्होंने दोषियों को किसी भी कीमत पर नहीं बख्शने की मांग की. बता दें कि 30 मई को ढाई साल की बच्ची अपने घर के बाहर से गायब हो गई थी. बाद में 2 जून को बच्ची की लाश कूड़े के ढेर में मिली. घटना के आरोपियों को पुलिस जेल भेज चुकी है. आगे मामले की तफ्तीश जारी है.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने क्या कहा
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल ने मामले के आरोपियों को किसी भी हाल में नहीं बख्शने की मांग की है. उन्होंने कहा, ”यूपी के अलीगढ़ में छोटी बच्ची की जघन्य हत्या ने मुझे हिला दिया है और मैं परेशान हूं. कैसे कोई इंसान एक बच्चे के साथ इस तरह का अमानवीय व्यवहार कर सकता है. इस जघन्य घटना के आरोपी किसी भी सूरत में बचने नहीं चाहिए. यूपी पुलिस मामले को जल्दी निपटाए और आरोपियों को सजा हो.”

क्या है पूरा मामला

30 मई को उस वक्त बच्ची अपने घर के बाहर से गायब हुई थी जब वो घर के बाहर खेल रही थी. इसके बाद घर के लोगों ने बच्ची की तलाश शुरू की. बच्ची के नहीं मिलने पर घरवालों ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. पुलिस ने गुमशुदगी का मामला दर्ज कर लिया और बच्ची की तलाश शुरु कर दी. पुलिस और बच्ची के परिजन लगातार उसकी तलाश कर रहे थे. इस बीच 2 जून को बच्ची की लाश कूड़े के ढेर में मिली. जानवारों ने लाश को क्षतविक्षत कर दिया था. बच्ची की लाश को वहां कूड़ा डालने पहुंचे किसी ने देखा. जब ये जानकारी बच्ची के पिता को हुई तो वो वहां पहुंचे और अपनी बच्ची को पहचान लिया. इसके बाद आक्रोशित भीड़ ने वहां जाम लगा दिया और प्रदर्शन करने लगी.

क्या कहती है पुलिस

अलीगढ़ के एसएसपी आकाश कुलहरि ने बताया कि आरोपी जाहिद और असलम का बच्ची के पिता से पैसों के लेनदेन को लेकर विवाद था. ये दोनों लोग मजदूर हैं और विवाद के बाद जाहिद ने बच्ची के पिता को धमकी भी दी थी. उन्होंने बताया कि पुलिस ने पूछताछ के लिए जाहिद को हिरासत में लिया था जहां उसने अपना जुर्म कुबूल कर लिया और बताया कि उसने अपने साथी असलम के साथ इस वारदात को अंजाम दिया था. एसएसपी ने कहा कि दोनों को जेल भेज दिया गया है.

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा मामला

इस घटना को लेकर कई तरह के मैसेज सोशल मीडिया में चल रहे हैं. हालांकि पुलिस का कहना है कि ये कोई हेट क्राइम नहीं है. पुलिस ने ये भी बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक बच्ची के साथ ना तो बलात्कार हुआ है और ना ही लाश पर तेजाब डाला गया है जैसा कि सोशल मीडिया में दावा किया जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.