पेट्रोल, डीजल के भाव स्थिर, कच्चे तेल में रही तेजी

0
91

नई दिल्ली, पेट्रोल और डीजल के दाम में शनिवार को स्थिर रहे, लेकिन आगे वृद्धि की संभावना बनी हुई है क्योंकि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के भाव में इस सप्ताह मजबूती बनी रही है। बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड का दाम पिछले सप्ताह की तुलना में दो डॉलर प्रति बैरल से ज्यादा बढ़ गया है। 

भारत में पेट्रोल और डीजल की कीमतें अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के भाव पर निर्भर करती हैं क्योंकि देश में तेल की खपत के एक बड़े हिस्से की पूर्ति आयात से ही होती है। 

पिछले सप्ताह अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार आईसीई पर ब्रेंट क्रूड के सिंतबर अनुबंध का भाव 64.23 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ था जबकि इस सप्ताह के आखरी कारोबारी सत्र में शुक्रवार को 66.88 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ। सप्ताह के दौरान ब्रेंट क्रूड का भाव 67 डॉलर प्रति बैरल से ऊपर तक उछला।

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकता, मुंबई और चेन्नई में शुक्रवार को पेट्रोल के दाम पूर्ववत क्रमश: 72.90 रुपये, 75.12 रुपये, 78.52 रुपये और 75.70 रुपये प्रति लीटर बने रहे। चारों महानगरों में डीजल के दाम भी यथावत क्रमश: 66.24 रुपये, 68.31 रुपये और 69.43 रुपये और 69.96 रुपये प्रति लीटर रहे।

पेट्रोल के दाम में शनिवार को लगातार चौथे दिन कोई बदलाव नहीं हुआ और डीजल के भाव भी स्थिर रहे। हालांकि डीजल के दाम में एक दिन पहले कटौती की गई थी। तेल विपणन कंपनियों ने शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन डीजल के भाव में दिल्ली और मुंबई में 10 पैसे जबकि कोलकाता में छह पैसे और चेन्नई में 11 पैसे प्रति लीटर की कटौती की।

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में डीजल के दाम में इस सप्ताह 45 पैसे प्रति लीटर की कमी आई है जबकि पिछले सप्ताह की वृद्धि के बाद पेट्रोल के भाव में महज छह पैसे की कटौती की गई है। 

पिछले सप्ताह शुक्रवार को लोकसभा में आम बजट 2019-20 पेश करते हुए वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क और उपकर में एक-एक रुपये की वृद्धि की घोषणा की थी, जिसके अगले दिन शनिवार को पूरे देश में दोनों वाहन ईंधनों के दाम में तकरीबन ढाई रुपये प्रति लीटर की वृद्धि हो गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.