मप्र में बाल अपराधों पर भाजपा-कांग्रेस में तीखी नोक-झोंक

0
61

भोपाल, मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से लापता हुए तीन साल के मासूम वरुण मीणा का जला हुआ शव मिलने के बाद विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सत्तारूढ़ कांग्रेस पर हमलावर हो गई। वहीं दूसरी ओर कांग्रेस राज्य में अपराधों का ग्राफ कम होने का दावा कर रही है। इस मुद्दे को लेकर विधानसभा में दोनों पक्षों में तीखी नोक-झोंक हुई। राज्य में बढ़ते बाल अपराधों को लेकर भाजपा सड़क से सदन तक हमलावर है। भाजपा ने विधानसभा में भोपाल में वरुण हत्याकांड का जिक्र करते हुए राज्य की कानून व्यवस्था पर चर्चा कराने की मांग की। इसके बाद भाजपा की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव की सत्ता पक्ष के विधायकों से तीखी नोक-झोंक हुई। भाजपा ने राज्य के गृहमंत्री का इस्तीफा मांगा। 

भाजपा विधायकों ने आरोप लगाया कि मासूम बच्चों की हत्याएं हो रही हैं। उनके साथ दुष्कर्म की घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं और अपराधी खुलेआम घूम रहे हैं इसलिए उन्होंने इस मुद्दे पर प्रश्नकाल को रोककर तत्काल चर्चा कराने की मांग की। 

मगर विधानसभा अध्यक्ष एन. पी. प्रजापति ने इसकी अनुमति नहीं दी तो विधानसभा में हंगामा हो गया। इसके चलते दो बार विधानसभा की कार्यवाही को स्थगित किया गया। 

नेता प्रतिपक्ष भार्गव ने आरोप लगाया कि राज्य की कानून व्यवस्था पूरी तरह चौपट हो चुकी है। बच्चों के मां-बाप भयभीत हैं। सरकार तबादलों में लगी हुई है, कुत्तों तक के तबादले कर दिए गए, अगर ऐसा नहीं होता तो सूंघने में दक्ष कुत्ते भोपाल मामले का जल्दी खुलासा कर देते। 

वहीं राज्य के गृहमंत्री बाला बच्चन ने विपक्ष के आरोपों को नकारते हुए कहा, “शिवराज सिंह चौहान को अपने कार्यकाल में हुए अपराधों को देखना चाहिए। बीते छह माह में राज्य में हर तरह के अपराधों में कमी आई है। महिलाओं पर होने वाले अपराध में 10 फीसदी तक की कमी आई है।”

दूसरी ओर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बालिका बचाओ अभियान के तहत राजधानी के रोशनपुरा में बुधवार को आयोजित धरना प्रदर्शन में हिस्सा लेकर बालिकाओं पर बढ़ते अपराधों पर चिंता जताई। 

चौहान ने कहा, “मासूम बालिकाओं के साथ होने वाली घटनाओं को सुनते ही आत्मा तड़प उठती है। प्रदेश में कहीं भी बेटियों के साथ अनहोनी होगी, तो बेटी बचाओ अभियान उनके साथ खड़ा होगा। दरिदों को नहीं छोड़ेंगे। अच्छे लोग ज्यादा और बुरे लोग कम हैं। विधानसभा में भी हमने पूरी ताकत के साथ यह मामला उठाया है और आगे भी लगातार इस लड़ाई को जारी रखेंगे।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.