विश्व कप-2003 मैच वकार की खराब कप्तानी के कारण हारे : अख्तर

0
187

नई दिल्ली, पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने 2003 विश्व कप में भारत के खिलाफ मिली हार को अपने करियर का सबसे े खराब मैच बताया है। भारत ने एक मार्च 2003 को दक्षिण अफ्रीका के सेंचुरियन में खेले गए विश्व कप के ग्रुप स्तर मैच में पाकिस्तान को छह विकेट से मात दी थी। पाकिस्तान ने उस मैच में 274 रन का स्कोर बनाया था, जिसे भारत ने चार विकेट खोकर हासिल कर लिया था।

अख्तर ने अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो पोस्ट किया है, जिसमें उन्होंने खुलासा किया है कि उनकी फिटनेस और वकार यूनुस की खराब कप्तानी के कारण पाकिस्तान को हार का सामना करना पड़ा। 

अख्तर ने कहा, “सेंचुरियन में 2003 में भारत के खिलाफ खेला गया विश्व कप मैच मेरे पूरे करियर का सबसे निराशाजनक मैच था। शानदार गेंदबाजी होने के बावजूद हम 274 के स्कोर का बचाव नहीं कर पाए थे।” 

अख्तर ने कहा कि मैच से एक रात पहले वो अपने घुटने की परेशानी से जूझ रहे थे और उन्हें मैदान पर खेलने के लिए घुटने में 4-5 इंजेक्शन लेने पड़े थे। उन्होंने कहा कि इंजेक्शन की वजह से उनके घुटने में पानी भर गया था जिसे बार बार ड्रेन कर निकाला जा रहा था। 

रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से मशहूर अख्तर ने कहा, “हमारी पारी समाप्त होने के बाद मैंने कहा था कि पहले बल्लेबाजी करके हमने 30-40 रन कम किए हैं तो सभी खिलाड़ी मुझ पर भड़क गए थे। मेरे टीम साथियों ने कहा कि 273 रन पर्याप्त नहीं है तो फिर क्या है।” 

उन्होंने कहा, “लेकिन सबकुछ भूलाकर हमने गेंदबाजी शुरू की, लेकिन मैंने अपनी फिटनेस की वजह से गेंदबाजी नहीं कर पाया। आखिरी में मैंने सचिन तेंदुलकर को शतक बनाने से पहले आउट किया, उस वक्त मैंने सचिन को बाउंसर डाला, तब मुझे ये लगा कि मुझे पहले ही इस तरह की गेंद सचिन को करनी चाहिए थी।” 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.