यूपी: सुषमा स्वराज के निधन को केशरीनाथ त्रिपाठी ने बताया व्यक्तिगत क्षति , कहा- वो नेकदिल महिला थीं

0
105

प्रयागराज: पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता केशरीनाथ त्रिपाठी ने भी सुषमा स्वराज के निधन पर गहरा अफ़सोस जताया है. उन्होंने कहा है कि सुषमा के निधन से उन्हें व्यक्तिगत क्षति पहुंची है, क्योंकि वह उन्हें न सिर्फ बड़ा भाई मानती थीं, बल्कि तमाम मामलों में कानूनी राय भी लेती थीं. केशरीनाथ त्रिपाठी के मुताबिक़ वह ओजस्वी नेता और प्रखर वक्ता के साथ ही ऐसी नेकदिल महिला भी थीं जो पूरी संवेदनाओं के साथ आम आदमी के दर्द को महसूस करती थीं और उन्हें दूर करने की पूरी कोशिश करती थीं.

बीजेपी की बड़ी नेता पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज नहीं रहीं. मंगलवार रात दिल्ली में हृदय गति रुकने से उनका निधन हो गया. आज दोपहर तीन बजे उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा.

बता दें कि खराब तबीयत का हवाला देते हुए सुषमा स्वराज ने 2019 का लोकसभा चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया था. विदेश मंत्री रहते हुए सुषमा स्वराज की बेहद लोकप्रिय थीं. ट्विटर के जरिए विदेश में फंसे लोगों की मदद करके और लोगों के पासपोर्ट संबंधी समस्याओं भी ट्विटर पर ही सुलझाकर उन्होंने अपनी एक तरह की छवि आम जनता के बीच बनाई थी. सत्ता में रहकर ही नहीं बल्कि विपक्ष में रहने के दौरान भी उनकी एक अलग पहचान थी.

यूपीए सरकार के दौरान सुषमा स्वराज ने लोकसभा में विपक्ष की नेता के तौर पर सफलता पूर्वक काम किया. सुषमा स्वराज के व्यक्तित्व और उनके भाषण के कायल विरोधी दल के नेता भी रहे. देश की संसद से लेकर संयुक्त राष्ट्र तक में उनकी ओजस्वी आवाज ने पार्टी और देश की बात को मजबूती से रखा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.