Bollywood Star Kids: Karan Deol से पहले सिर्फ़ 5 स्टार किड्स को मिला यह दुर्लभ मौक़ा…

0
116

नई दिल्ली, पल पल दिल के पास फ़िल्म से देओल परिवार की तीसरी पीढ़ी के पहले सदस्य करण देओल बॉलीवुड पारी शुरू कर रहे हैं। करण के डेब्यू को लेकर सोशल मीडिया में भी काफ़ी हलचल है। करण उन स्टार किड्स में शामिल हैं, जिन्हें लांच करने का ज़िम्मा ख़ुद उनके पिताओं ने उठाया। पल पल दिल के पास को सनी देओल ने ख़ुद डायरेक्ट किया है। सनी की यह तीसरी डायरेक्टोरियल फ़िल्म है।

पिछले सालों में हमने देख रणबीर कपूर, सोनम कपूर, सोनाक्षी सिन्हा, अर्जुन कपूर, वरुण धवन, आलिया भट्ट, जाह्नवी कपूर, सारा अली ख़ान, टाइगर श्रॉफ, सूरज पंचोली, आथिया शेट्टी जैसे स्टार किड्स को उनके पिताओं ने लांच नहीं किया, जबकि ये सभी पॉवरफुल फ़िल्मी फैमिली से आते हैं। सुनील शेट्टी के बेटे अहान शेट्टी RX 100 के रीमेक से बॉलीवुड डेब्यू करेंगे, जिसकी शूटिंग शुरू हो चुकी है, मगर अहान की लांचिंग का जिम्मा साजिद नाडियाडवाला और मिलन लूथरिया ने उठाया है। उससे पहले सलमान ख़ान, अभिषेक बच्चन, करीना कपूर, करिश्मा कपूर की बॉलीवुड एंट्री फ़ैमिली के बाहर से हुई। 

हिंदी सिनेमा में ऐसे स्टार किड्स बहुत कम हैं, जिन्हें उनके पिताओं ने बॉलीवुड में लांच करने के लिए डेब्यू फ़िल्म का निर्देशन किया हो। 

रितिक रोशन- राकेश रोशन

रितिक रोशन को उनके पिता राकेश रोशन ने कहो ना प्यार है फ़िल्म से लांच किया था। इस फ़िल्म को राकेश ने ख़ुद डायरेक्ट और प्रोड्यूस किया। 

ऋषि कपूर- राज कपूर

राज कपूर को हिंदी सिनेमा का शो-मैन कहा जाता है। कई क्लासिक फ़िल्मों का निर्माण और निर्देशन उन्होंने किया। जब बेटे ऋषि कपूर को सिनेमा में लांच करने की बारी आयी तो राज कपूर ने बॉबी बनाई। इसका निर्माण और निर्देशन ख़ुद किया।

राजीव कपूर- राज कपूर

छोटे बेटे राजीव कपूर को उन्होंने राम तेरी गंगा मैली से लांच किया। यह फ़िल्म भी हिंदी सिनेमा की क्लासिक्स में गिनी जाती है। 

संजय दत्त- सुनील दत्त

संजय दत्त ने अपने करियर में बतौर एक्टर एक से बढ़कर एक फ़िल्मों में काम किया, लेकिन बेटे संजय दत्त को लांच करने के लिए वो निर्देशन में उतरे। सुनील दत्त ने संजय को रॉकी से लांच किया।

फरदीन ख़ान- फ़िरोज़ ख़ान

फ़िरोज़ ख़ान हिंदी सिनेमा के ऐसे फ़िल्ममेकरों में शामिल हैं, जिन्होंने सिनेमा को घिसे-पिटे ढांचे से निकालकर स्टाइलिश बनाया। धर्मात्मा, कुर्बानी, दयावान जैसी फ़िल्में फिरोज़ के शानदार निर्देशन की बानगी हैं। बेेटे फ़रदीन को ब्रेक देने के लिए फ़िरोज़ ख़ान ने प्रेम अगन बनाई।

इनके अलावा सनी देओल, बॉबी देओल, अक्षय खन्ना, आमिर ख़ान ऐसे स्टार किड्स हैं, जिनकी डेब्यू फ़िल्मों का निर्देशन किसी और ने किया, मगर निर्माता उनके पिता ही थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.