National Film Award: घूमर को मिले दो अवॉर्ड, कोरियोग्राफर ने खोले गाने से जुड़े कई राज

0
134

नई दिल्ली, 66वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों का ऐलान हो चुका है। इस बार लंबे विरोध का सामना कर रिलीज हुई फिल्म पद्मावत के गाने ‘घूमर’ ने कई अवॉर्ड अपने नाम किए। फिल्म पद्मावत के गाने घूमर को बेस्ट कोरियोग्राफर और बेस्ट म्यूजिक डायरेक्टर का अवॉर्ड मिला। घूमर गाने में डांस कोरियोग्राफ करने वाली ज्योति तोमर को बेस्ट कोरियोग्राफर और फिल्म के निर्देशक संजय लीला भंसाली को बेस्ट म्यूजिक डायरेक्टर का अवॉर्ड मिला है।

बेस्ट कोरियोग्राफर अवॉर्ड की घोषणा के बाद ज्योति तोमर ने जागरण डॉट कॉम से खास बातचीत में अपनी खुशी जाहिर की। उन्होंने बताया कि वो उनके लिए यह गर्व का पल है, क्योंकि कई फिल्मों और गानों में से घूमर को चुना गया है और राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिलना उनके लिए बड़ी बात है। साथ ही उन्होंने यह अवॉर्ड मिलने का श्रेय राजमाता पद्मश्री सम्मानित गोवर्धन कुमारी को दिया है, जिन्होंने ज्योति को घूमर की बारीकियों से अवगत करवाया है।

‘खुशी इस बात है कि घूमर में जो शालीनता और ठहराव है, वो ही इस गाने में था। वहीं संजय लीला भंसाली ने इसे हकीकत के सबसे करीब तक पहुंचाने में मदद की, क्योंकि राजघराने में इसी अदब, तहजीब और शालीनता के साथ डांस किया जाता है।’ वहीं गाने को लेकर हुए विवाद को लेकर ज्योति ने कहा कि हमारे खिलाफ केस भी किया गया था और वो हमने जब अपना पक्ष रखा तो वो केस खारिज भी हो गया।

बता दें कि कई सामाजिक संगठनों के विरोध के बाद दीपिका पादुकोण की कमर नहीं दिखाई गई थी, क्योंकि कई संगठनों का आरोप था कि यह गलत है और राजघरानें की रानियां इस तरह के कपड़े नहीं पहनती थीं। इस विवाद को लेकर ज्योति ने कहा कि ये आरोप गलत हैं, क्योंकि उस वक्त लंबी कुर्तिया नहीं थीं। उन्होंने बताया, ‘साल 1500 के बाद में लंबी कुर्तियां आई थीं और यह 1300 के करीब की कहानी है और उस वक्त छोटे ब्लाउज होते थे।’

वहीं गाने में पुरुष सिंगर की अवाज पर उठे सवालों को लेकर ज्योति ने कहा कि ऐसा नहीं है कि पुरुष राजघरानों में गाते या बजाते नहीं थे। उन्होंने बताया, ‘उस वक्त भी मांगनियार गाना गाते थे और बजाते थे। अगर वो रानियों के सामने गाना गाते थे तो वो कमरे के बाहर रहते थे। वहीं अगर वो कमरे में रहते भी थे तो वो पर्दे रहते थे।’

बता दें कि इस बार पुरस्कार विजेताओं की लिस्ट में रिजनल सिनेमा के साथ साथ हिंदी फिल्मों का भी दबदबा रहा, जिसमें अंधाधुन, उरी: द सर्जिकल स्ट्राइक, पद्मावत, पेडमैन का नाम शामिल है। इस बार विक्की कौशल और आयुष्मान खुराना को साझा बेस्ट एक्टर अवॉर्ड मिला है, जबकि अंधाधुन को बेस्ट हिंदी फिल्म का अवॉर्ड मिला। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.