कराची में ‘मीका सिंह नाइट’ में पहुंचे आईएसआई अधिकारी, दाउद का परिवार

0
56

नई दिल्ली, अपने उसूलों को ताक पर रखकर बॉलीवुड के स्टार गायक मीका सिंह आठ अगस्त की रात जब कराची के एक महलनुमा बंगले में अपनी गायकी का समा बांधे हुए थे तब उनके गानों का लुत्फ उठाने वाले कुछ अहम मेहमान जो वहां मौजूद थे, उनमें आईएसआई के शीर्ष अधिकारी और भारत के मोस्टवांटेड दाऊद इब्राहिम के परिवार के सदस्य शामिल थे। 

जम्मू-कश्मीर मसले पर केंद्र सरकार द्वारा लिए गए ऐतिहासिक फैसले के बाद भारत-पाकिस्तान के बीच बढ़ते तनाव को दरकिनार करके वहां पहुंचे मीका सिंह की यह रात उन्हें मुश्किल में डाल सकती है, क्योंकि इसका आयोजन पकिस्तान के पूर्व तानाशाह परवेज मुशर्रफ के करीबी माने जाने वाले अदनान असद ने किया था।

जनरल परवेज मुशर्रफ के रिश्तेतदार असद ने अपनी बेटी सेलिना की मेहंदी रस्म पर ‘मीका सिंह नाइट’ का आयोजन किया था। 

कार्यक्रम का आयोजन डिफेंस हाउस अथॉरिटी (डीएचए), फेज-8 स्थित 23, बीच एवेन्य में किया गया था, जोकि डी कंपनी के सदस्य अनीस इब्राहिम और छोटा शकील के करांची स्थित आवास से बहुत ज्यादा दूर नहीं था।

करांची के एक प्रमुख अखबार से जुड़े पत्रकार ने आईएएनएस को बताया कि टिशू पेपर बनाने वाले असद, मुशर्रफ के कार्यकाल में करांची का एक बड़ा उद्योगपति बन गए। उन्होंने बताया कि असद क्रिकेटर से अब प्रधानमंत्री बने इमरान खान, जावेद मियांदाद और जहीर अब्बास समेत कई शीर्ष स्तर के पूर्व क्रिकेटरों के करीबी हैं। 

प्रधानमंत्री से उनकी नजदीकी होने के कारण असद मीका सिंह और उनके 14-सदस्यीय दल को वीजा दिलवाने में कामयाब रहे और इस तरह उन्होंने आठ अगस्त को करांची में इस कार्यक्रम का आयोजन किया, जबकि पाकिस्तान सरकार ने किसी भी भारतीय कलाकार या फिल्मी हस्ती के प्रदर्शन पर रोक लगा दी है। 

पत्रकार ने बताया कि शीर्ष नौकरशाहों, सेना और पुलिस के अधिकारियों और मियांदाद समेत स्टार क्रिकेटरों के परिवार को कार्यक्रम में आमंत्रित किया गया था। 

गौरतलब है कि मियांदाद के बेटे जुनैद की शादी दाऊद की बेटी महरुख के साथ हुई है। 

पत्रकार ने मियांदाद का दाऊद इब्राहिम के साथ रिश्ते की बात स्वीकारी, लेकिन डी-कंपनी के ठिकाने और पाकिस्तान सरकार में उनकी सांठगांठ को लेकर पूछे गए सवालों को वह नजरंदाज कर गए। 

वीनस समूह के मालिक असद की फेसबुक प्रोफाइल के अनुसार, स्टार क्रिकेटर और सेना के शीर्ष अधिकारी से उनका करीबी संबंध है। 

पाकिस्तान के इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) के पूर्व प्रमुख अहमद शुजा पाशा भी उनकी फ्रेंड लिस्ट में शामिल हैं। 

पाशा जब खुफिया एजेंसी के प्रमुख थे, उसी समय लश्कर-ए-तैयबा ने 2008 में 26/11 के मुंबई आतंकी हमले को अंजाम दिया था, जिसमें 174 लोगों की जानें गई थीं, जिनमें विदेशी भी शामिल थे। इस आतंकी वारदात में 300 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। 

‘मीका सिंह नाइट’ में दाऊद की बेटी और उनके परिवार के सदस्यों की मौजूदगी के बारे में जानने के लिए आईएएनएस ने असद से उनके करांची स्थित लैंड लाइन नंबर पर संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन जिस व्यक्ति ने फोन उठाया उसने किसी भी तरह की सूचना देने से मना कर दिया।

वहीं, नई दिल्ली में भारतीय खुफिया सूत्रों ने पाकिस्तानी अधिकारियों के साथ असद की नजदीकी की पुष्टि की, लेकिन दाऊद के परिवार से उनकी नजदीकी के संबंध में उन्हें कोई जानकारी नहीं थी। 

ईद का अवकाश होने के कारण करांची के मौरीपुर में हॉकेसबे रोड स्थित असद का दफ्तर शायद बंद था क्योंकि कई बार फोन करने पर भी वहां किसी ने फोन नहीं उठाया। 

‘मीका सिंह नाइट’ शनिवार को सोशल मीडिया पर वाइरल हो गई, क्योंकि कुछ मेहमानों ने ट्विटर पर वीडियो क्लिप लीक कर दी थी। 

दोनों देशों के बीच बढ़ते तनाव के दौरान मनोरंजन के इस कार्यक्रम की आलोचना सीमा के दोनों तरफ हो रही है।

विपक्षी दल पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के सैयद खुर्शीद शाह ने कहा है कि सरकार को अवश्य पता लगाना चाहिए कि मीका सिंह को ऐसे समय में पाकिस्तान का दौरा करने के लिए सुरक्षा संबंधी मंजूरी और वीजा किसने दिया, जब देश ने भारत के साथ कूटनीतिक और व्यापारिक संबंध तोड़ लिए हैं। 

भारत में भी पत्रकारों और राजनेताओं ने मीका सिंह की आलोचना की है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.