एक समय ऐसा आएगा जब भारत कश्मीर पर मध्यस्थता के लिए तैयार होगा : ट्रंप

0
36

न्यूयार्क,अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को फिर से कश्मीर मुद्दे को भुनाते हुए कहा कि कश्मीर पर मध्यस्थता के लिए ‘भारत तैयार हो सकता है।’ 

पाकिस्तानी प्रधाानमंत्री इमरान खान के साथ बैठक से पहले पत्रकारों के सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि वह कश्मीर पर मध्यस्थता करने के लिए इच्छुक हैं, लेकिन उसी स्थिति में जब दोनों पक्ष तैयार हो जाएं।

उन्होंने कहा, “हालांकि, आपके पास दो पक्ष होना चाहिए जो सहमत होना चाहते हैं। जब वे आएंगे..और एक समय भारत इसके लिए तैयार हो सकता है..मेरे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बहुत अच्छे संबंध हैं और मेरा प्रधानमंत्री खान के साथ भी अच्छा संबंध है।”

ट्रंप ने कहा, “मुझे लगता है कि मैं अच्छा मध्यस्थकार हो सकता हूं।”

ट्रंप ने जुलाई में व्हाइट हाउस में खान के साथ बैठक से पहले कहा था कि मोदी ने उनसे कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता करने के लिए कहा था।

भारत ने हालांकि ऐसे किसी भी प्रकार के आग्रह से इनकार कर दिया था।

खान के साथ ट्रंप की बैठक ह्यूस्टन में ‘हाउडी मोदी’ समारोह के एक दिन बाद हुई।

उन्होंने कहा, “अगर मैं मदद कर सकता हूं तो मैं हमेशा ऐसा करूंगा, हालांकि यह दोनों पक्षों की सहमति पर निर्भर करेगा।”

उन्होंने कहा, “मैं ऐसा करने की इच्छा रखता हूं और इसमें सक्षम हूं।”

यह पूछे जाने पर कि पाकिस्तान में आतंकवाद की समस्या पर क्या वह उसपर विश्वास करते हैं, इस पर ट्रंप ने कहा, “मैं यहां इस जेंटलमैन पर विश्वास करता हूं और मैं पाकिस्तान पर भी विश्वास करता हूं।”

ट्रंप ने कहा कि जहां तक आतंकवाद से निपटने की बात है, मैंने सुना है कि उन्होंने(पाकिस्तान) इस क्षेत्र में प्रगति की है।

जब खान ने ईरान, अफगानिस्तान और भारत के साथ अपनी समस्याओं के बारे में बोला, ट्रंप ने हल्के लहजे में कहा, “वह काफी दोस्ताना पड़ोसियों के साथ रहते हैं।”

खान ने कहा कि वह ट्रंप के समक्ष निजी तौर पर कश्मीर मुद्दा रखना चाहते हैं।

उन्होंने कहा, “यह मानवीय मुद्दा है। अगर आप उनसे (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) से अब मिलने वाले होते तो मैं आपसे कम से कम उनसे कर्फ्यू (कश्मीर में पाबंदी) हटाने के लिए कहने को कहता।”

उन्होंने कहा, “मैं ईमानदारी से महसूस करता हूं कि यह संकट और भी बदतर हो जाएगा।”

खान ने कहा कि अमेरिका सुरक्षा परिषद में कश्मीर मुद्दे पर चर्चा और ‘मानवीय संकट’ समाप्त करने के लिए भारत और पाकिस्तान को एकसाथ लाने पर कुछ कर सकता है।

ट्रंप ने कहा कि अफगानिस्तान और तालिबान से डील करने के मामले में खान ‘बहुत मददगार’ रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.