सरकार अकेले नहीं कर सकती समस्याओं का समाधान : शिव नाडर

0
25

नई दिल्ली, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के स्थापना दिवस पर आयोजित विजयादशमी उत्सव में एचसीएल के चेयरमैन शिव नाडर ने मंगलवार को कहा कि देश तमाम चुनौतियों का सामना कर रहा है, मगर सरकार अकेले सभी समस्याओं का समाधान नहीं कर सकती। निजी क्षेत्रों, नागरिकों और एनजीओ को भी देश के सामने खड़ी चुनौतियों से निपटने में योगदान देना होगा। उन्होंने प्राइमरी शिक्षा के क्षेत्र में अपनी ‘शिक्षा’ नामक पहल के बारे में बताया कि कैसे देश के कई राज्यों की बेसिक शिक्षा में संस्था खामोशी से क्रांतिकारी परिवर्तन लाने में जुटी हुई है। 

उन्होंने कहा, “आज हमारे सामने नई चुनौतियां हैं। पिछले कई दशकों तक हमने पोलियो, स्माल पॉक्स, भूख, अशिक्षा, बुनियादी स्वास्थ्य सुविधाओं आदि से संघर्ष किया। इन समस्याओं के समाधान के लिए सभी हितधारकों को प्रयास करना होगा, इसमें निजी क्षेत्र और नागरिकों की समान सहभागिता जरूरी है।”

डॉ. हेडगेवार ने 1925 में विजयादशमी के मौके पर संघ की स्थापना की थी, तब से संघ हर साल विजयादशमी पर ही स्थापना दिवस मनाता है। यह संघ के साल के सबसे बड़े आयोजनों में से एक है। 

कार्यक्रम में बोलते हुए शिव नाडर ने विजयादशमी की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा, “कार्यक्रम में आमंत्रित किए जाने पर मैं सम्मानित महसूस कर रहा हूं। रेशिमबाग का मैदान आज संघ कार्यकतार्ओं के ऊर्जा और उत्साह से जीवंत हो उठा है।”

शिव नाडर ने महानगर की ओर से आयोजित पथसंचलन का संघ प्रमुख मोहन भागवत के साथ अवलोकन किया। शिव नाडर और मोहन भागवत ने संघ संस्थापक डॉ. हेडगेवार और द्वितीय सर संघचालक गुरुजी की समाधि पर भी श्रद्धासुमन अर्पित किए। संघ के इस कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी उपस्थित थे।

शिव नाडार को संघ के स्थापना दिवस पर आयोजित समारोह में बुलाने के पीछे आरएसएस सूत्रों का कहना है कि वह उद्योगपति और समाजसेवी के साथ आइटी क्षेत्र की दिग्गज कंपनी एचसीएल टेक्नॉलोजीज के अध्यक्ष हैं। तमिलनाडु में जन्मे शिव नाडार की प्रतिभाएं कार्यक्षमता और नेतृत्व कौशल का ही प्रमाण है कि विश्व के पांच देशों में 100 से ज्यादा कार्यालय और 30 हजार से ज्यादा कर्मचारी-अधिकारी हैं। चूंकि शिव नाडर सामाजिक कार्यों में भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते हैं, इस नाते इस बार संघ ने उन्हें विजयादशमी उत्सव कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित किया। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.