Promotion on Wheels: बॉलीवुड को पसंद आई भारतीय रेल, फिल्म निर्माताओं की लगी लंबी लाइन

0
119

नई दिल्ली। ‘प्रमोशन ऑन ह्वील्स’ ट्रेन के जरिए अक्षय कुमार की फिल्म हाउसफुल-4 के प्रचार से प्रेरित होकर बॉलीवुड के अनेक फिल्म निर्माताओं ने अपनी आगामी फिल्मों की पब्लिसिटी के लिए इस ट्रेन की बुकिंग के आवेदन देने शुरू कर दिए है। इनमें सलमान खान की ‘दबंग-3’ तथा दीपिका पादुकोण की ‘छपाक’ जैसी आगामी फिल्में शामिल हैं।

मुश्किल दौर में बॉलीवुड और रेलवे को एक-दूसरे का सहारा मिला है। फिल्म की मार्केटिंग के बढ़ते खर्च से परेशान फिल्म वालों ने ट्रेन का दामन थामा है। उन्हें रेलवे की नई प्रमोशन ‘ऑॅन ह्वील्स’ ट्रेन इतनी भाई है उन्होंने अपनी आगामी फिल्मों के प्रचार के लिए टीवी के बजाय इस ट्रेन को तरजीह देना शुरू कर दिया है।

रेलवे कर रही है नए-नए प्रयोग

वहीं यात्री ट्रेनों को घाटे से उबारने के लिए रेलवे नित नए प्रयोग कर रही रेलवे है। सेमी हाईस्पीड ‘वंदे भारत’ के बाद निजी क्षेत्र के सहयोग से लखनऊ और दिल्ली के बीच चलाई गई कारपोरेट ट्रेन ‘तेजस’ इसका उदाहरण है। इन ट्रेनों ने यात्री ट्रेनों के घाटे को मुनाफे में बदलना शुरू कर दिया है। इस कामयाबी से उत्साहित रेलवे ने सांस्कृतिक, कलात्मक व खेलकूद गतिविधियों के प्रचार-प्रसार की इच्छुक पार्टियों के लिए ‘प्रमोशन ऑन ह्वील्स’ नाम से ट्रेनों की नई सीरीज शुरू करने का निर्णय लिया है। और ट्रेन को बॉलीवुड निर्माताओं की ओर से अत्यंत उत्साहव‌र्द्धक प्रतिक्रिया प्राप्त हुई है।

‘प्रमोश ऑन ह्वील’ से रेलवे को हुआ 20 लाख का मुनाफा

रेलवे अधिकारियों के मुताबिक पहली ‘प्रमोशन ऑन ह्वील’ ट्रेन से रेलवे को 53 लाख रुपये की कमाई के साथ 20 लाख रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ है। इस रकम में हॉलेज शुल्क के 38 लाख रुपये तथा विनायल फिल्म की रैपिंग का 18 लाख रुपये का खर्च शामिल हैं। मात्र आठ डिब्बों की जरूरत होने से इस ट्रेन पर 22-24 कोच वाली सामान्य मेल-एक्सप्रेस ट्रेन के मुकाबले रेलवे को काफी ईधन व रखरखाव पर अपेक्षाकृत कम रकम खर्च करनी पड़ी। जहां सामान्य मेल-एक्सप्रेस ट्रेनों में रेलवे को 100 रुपये के किराये पर 43 रुपये का नुकसान उठाना पड़ता है, वहीं ये ट्रेन हर तरह से मुनाफे का सौदा है।

कई फिल्म निर्माता कर चुके हैं आवेदन

हाउसफुल-4 के बाद आठ और निर्माता अपनी आने वाली फिल्मों के लिए इसकी बुकिंग का आवेदन दे चुके हैं। इनमें सलमान खान की फिल्म दबंग-3, अक्षय कुमार की पैडमैन-2, मेघना गुलजार द्वारा निर्मित व निर्देशित दीपिका पादुकोण की फिल्म ‘छपाक’, अनुराग कश्यप द्वारा निर्मित व तुषार हीरानंदानी निर्देशित तापसी पन्नू की फिल्म ‘सांड की आंख’ तथा टी सीरीज की मिलाप झावेरी निर्देशित एवं रीतेश देशमुख व सिद्धार्थ मल्होत्रा अभिनीत फिल्म ‘मरजावां’ शामिल हैं।

फिल्म वालों का कहना है कि इस ट्रेन से फिल्मों के प्रमोशन और पब्लिसिटी का खर्चा कम होगा। हाउसफुल-4 टीम के एक कलाकार ने मजाकिया अंदाज में कहा, ‘टीवी पर अब नेताओं का प्रमोशन हो रहा है। इसलिए हमने ट्रेन को चुना है। इससे हमें अपने प्रशंसकों से सीधे रूबरू होने का मौका भी मिलेगा।’

रूट के स्टेशन अहम

‘प्रमोशन ऑन ह्वील्स’ की योजना इस प्रकार तैयार की गई है ताकि प्रस्थान एवं गंतव्य स्टेशन के बीच ज्यादा से ज्यादा शहरों और कस्बों के लोगों तक फिल्म के बारे में जागरूकता और उत्सुकता पैदा की जा सके। ट्रेन की विनायल रैपिंग में रंग संयोजन और चित्रांकन भी इन शहरों के लोगों की रुचि का ध्यान रखा गया। इन ट्रेनों से स्टेशनों पर अव्यवस्था न पैदा हो इसके लिए एहतियाती इंतजाम किए जाएंगे। किसी जगह ज्यादा देर रुकने पर हाल्टिंग शुल्क लिया जाएगा।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.