Exit poll: महाराष्ट्र-हरियाणा में बीजेपी की वापसी के संकेत, प्रचंड बहुमत के साथ बन सकती है सरकार

0
105

महाराष्ट्र-हरियाणा विधानसभा चुनाव: महाराष्ट्र की 288 और हरियाणा की 90 सीटों के लिए 21 अक्टूबर को वोटिंग हो गई है. उम्मीदवारों की राजनीतिक किस्मत अब ईवीएम में कैद है. राज्य में सत्ता के शिखर पर कौन सी पार्टी पहुंचेगी ये तो नतीजों के बाद ही साफ हो पाएगा लेकिन एग्जिट पोल के जो आंकड़े आए हैं वो कांग्रेस के लिए निराशाजनक हैं. आंकड़ों के मुताबिक महाराष्ट्र और हरियाणा दोनों ही राज्यों में बीजेपी सत्ता में वापसी करती दिख रही है. देवेंद्र फडणवीस और मनोहर लाल खट्टर एक बार फिर प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बना सकते हैं. एबीपी न्यूज़-सी वोटर के एग्जिट पोल के आंकड़ों के मुताबिक जानिए किसे कितनी सीटें मिल सकती हैं.

महाराष्ट्र में किसे कितनी सीट?

महाराष्ट्र में कुल 288 विधानसभा सीटें हैं और एग्जिट पोल के मुताबिक बीजेपी और उसके सहयोगियों को में 198-222 सीटों पर जीत हासिल हो सकती हैं. वहीं, कांग्रेस और उसके सहयोगियों को 49-75 सीटों पर जीत मिल सकती है. अन्य को 4-21 सीटें मिलने का अनुमान है.

कुल- 288
बीजेपी + 198-222 सीट
कांग्रेस + 49-75 सीट
अन्य- 4-21 सीट

राज्य में अलग-अलग पार्टियों को मिलने वाली संभावित सीटों की बात करे तो बीजेपी को 140, शिवसेना को 70, कांग्रेस को 31, तो वहीं एनसीपी के खाते में 32 सीटें जा सकती हैं.

कुल – 288

बीजेपी 140
शिवसेना 70
कांग्रेस 31
एनसीपी- 32
अन्य-15

महाराष्ट्र में किसे कितने वोट?

महाराष्ट्र चुनाव में बीजेपी और उसके सहयोगियों को 45 फीसदी, कांग्रेस को 36 फीसदी और अन्य पार्टियों को 19 फीसदी वोट मिल सकता है.

कुल – 288

बीजेपी + 45%
कांग्रेस + 36%
अन्य- 19%

महाराष्ट्र में कितनी सीट पर कौन सी पार्टी लड़ रही है चुनाव?

प्रदेश में बीजेपी 164 सीटों पर चुनाव लड़ी है जिसमें छोटे सहयोगी दल भी हैं जो पार्टी के चुनाव चिन्ह कमल पर चुनाव लड़ रहे हैं. सहयोगी शिवसेना ने 124 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं. दूसरी ओर कांग्रेस ने 147 सीटों पर उम्मीदवार उतारे हैं जबकि सहयोगी एनसीपी ने 121 सीटों पर. प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए राज ठाकरे की अगुवाई वाली महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने 101 सीटों पर, सीपीआई ने 16, सीपीएम ने आठ, बसपा ने 262 सीटों पर अपने अपने उम्मीदवार उतारे हैं.

क्या रहे थे साल 2014 के नतीजे

साल 2014 में बीजेपी ने सबसे ज्यादा 122 सीटों पर जीत दर्ज की थी. वहीं उसकी सहयोगी शिवसेना ने दूसरे नंबर पर सबसे ज्यादा 63 सीटों पर जीत दर्ज की थी. यहां बता दें कि शिवसेना और बीजेपी ने चुनाव अलग-अलग लड़ा था लेकिन नतीजों के बाद गठबंधन में आ गए थे और बीजेपी के देवेंद्र फडणवीस मुख्यमंत्री बने थे. वहीं, कांग्रेस 41 सीटों के साथ तीसरी बड़ी पार्टी रही थी. 2014 में कांग्रेस और एनसीपी ने भी अलग-अलग चुनाव लड़ा था. इस बार बीजेपी, शिवसेना के साथ तो वहीं कांग्रेस एनसीपी के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ रही है.

महाराष्ट्र में हुआ 60.46 फीसदी मतदान

महाराष्ट्र में सोमवार को हुए विधानसभा चुनावों में 60.46 फीसदी वोट पड़े. सबसे ज्यादा वोटिंग कोल्हापुर के करवीर विधानसभा क्षेत्र में हुई जहां 83.20 फीसदी वोट पड़े. सबसे कम मतदान दक्षिण मुंबई के कोलाबा इलाके में 40.20 फीसदी हुआ. साल 2014 में हुए विधानसभा चुनावों में राज्य में 63.38 फीसदी मतदान हुआ था.

हरियाणा में किसे कितनी सीट?

हरियाणा की कुल 90 सीटों में से बीजेपी विपक्ष का सफाया करते हुए 66-74 सीटों पर जीत हासिल कर सकती है. वहीं कांग्रेस के खाते में 3-12 सीटें जा सकती हैं. एग्जिट पोल के मुताबिक अन्य के खाते में 6-16 सीटें जा सकती हैं.

कुल- 90
बीजेपी 66-74 सीट
कांग्रेस 3-12 सीट
अन्य 6-16 सीट

हरियाणा में किसे कितने वोट ?

हरियाणा चुनाव में बीजेपी को 42 फीसदी, कांग्रेस को 26 फीसदी, जेजेपी को 19 फीसदी और अन्य पार्टियों को 13 फीसदी वोट मिल सकता है.

बीजेपी – 42%
कांग्रेस -26%
जेजेपी- 19%
अन्य- 13%

हरियाणा में कितनी सीट पर कौन सी पार्टी लड़ रही है चुनाव?

हरियाणा में बीजेपी और कांग्रेस सभी 90 सीटों पर चुनाव लड़ रही है, जबकि बसपा 87 और इनेलो 81 सीटों पर चुनाव मैदान में है. भाकपा चार और माकपा सात सीटों पर लड़ रही है, वहीं निर्दलीय उम्मीदवारों की संख्या 434 है. पहली बार चुनाव में हिस्सा लेने जा रही जननायक जनता पार्टी ने भी 80 से ज्यादा सीटों पर अपने उम्मीदवार मैदान में उतारे हैं.

साल 2014 में क्या रहे थे नतीजे

हरियाणा में इस वक्त बीजेपी की सरकार है. पिछले चुनाव साल 2014 में हुए थे. राज्य की 90 विधानसभा सीटों पर हुए चुनाव में बीजेपी ने सबसे ज्यादा 47 सीटे जीती थी. वहीं कांग्रेस के खाते में 15 सीटें आई थी. आईएनएलडी को 19 सीटों पर जीत मिली थी. हरियाणा जनहित कांग्रेस को राज्य में दो विधानसभा सीटों पर जीत मिली थी. बहुजन समाज पार्टी और शिरोमणी अकाली दल को एक-एक सीटों पर जीत मिली थी. साल 2014 में राज्य की पांच विधानसभा सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवार जीते थे.

हरियाणा में हुई 65.75% वोटिंग

हरियाणा में सोमवार को हुए विधानसभा चुनावों में 65.75 फीसदी वोट पड़े जो 2014 के चुनावों की तुलना में काफी कम है. 2014 के विधानसभा चुनावों में मतदान करीब 76.54 फीसदी हुआ था जबकि इस साल लोकसभा चुनावों में दस संसदीय सीटों पर 70.36 फीसदी वोट पड़े थे.


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.