गीतिका खुदकुशी मामले में आरोपी हैं BJP को समर्थन देने वाले कांडा, जानें उनपर क्या-क्या केस चल रहे हैं?

0
153

नई दिल्ली: हरियाणा चुनाव के जब नतीजे आ रहे थे तो ऐसा लग रहा था कि जननायक जनता पार्टी के नेता दुष्यंत चौटाला किंगमेकर बनेंगे, लेकिन अब गोपाल कांडा ने बीजेपी के लिए मोर्चा संभालकर किंगमेकर का ताज अपने सिर सज़ो लिया है. कांडा ने पांच निर्दलीय विधायकों को अपने साथ लाकर बीजेपी को समर्थन देने का एलान किया है. ऐसे में अब राज्य में एक बार फिर बीजेपी की सरकार बनती नज़र आ रही है.

हरियाणा की राजनीति में गोपाल कांडा की ऊंचाई तक पहुंचने की कहानी कम फिल्मी नहीं है. एक वक्त था जब गोपाल कांडा सिरसा में रेडियो रिपेयर की दुकान चलाते थे. उसके बाद उन्होंने जूते-चप्पल की दुकान खोली. दुकान चल पड़ी फिर जूते की फैक्ट्री खोल ली और फिर जूते की नाप लेते-लेते राजनीति की सीढ़ियां चढ़ते गए. कांडा का नाता एक के बाद एक अलग-अलग पार्टी के नेताओं से जुड़ता चला गया और उनकी हैसियत भी बढ़ती चली गई.

साल 2009 में भी हरियाणा की राजनीति में आज जैसे हालात बने थे. कांग्रेस बहुमत से दूर चालीस सीट पर रह गई थी. उस वक्त गोपाल कांडा निर्दलीय चुनाव जीते थे और कांग्रेस की सरकार को समर्थन की कीमत गृह राज्य मंत्री की कुर्सी लेकर वसूली थी.

क्या है गीतिका शर्मा सुसाइड केस

गोपाल कांडा तब विवादों में फंस गए थे जब उनकी बंद हो चुकी एयरलाइन कंपनी एमडीएलआर में काम करने वाली गीतिका नाम की एयरहोस्टेस ने अगस्त 2012 में खुदकुशी कर ली थी. उन्होंने अपने सुसाइड नोट में गोपाल गोयल कांडा को जिम्मेदार ठहाराया था. यह मामला अभी भी कोर्ट में है. गीतिका शर्मा की मां अनुराधा शर्मा ने भी बेटी की खुदकुशी के कई महीनों बाद आत्महत्या कर ली थी.

गीतिका शर्मा आत्महत्या मामले में पुलिस ने 6 अक्टूबर 2012 को चार्जशीट दाखिल की थी. इसके मुताबिक, कांडा ने मनमानी और दुर्भावनापूर्ण हरकतें करके गीतिका को मानसिक तौर पर प्रताड़ित किया था, उसे धमकाया, ब्लैकमेल किया, जिससे तंग आकर गितिका आत्महत्या जैसा कदम उठाने को मजबूर हो गई.

कांडा को जेल जाना पड़ा था और खुदकुशी के लिए उकसाने का केस उनपर अब भी चल रहा है.

गोपाल कांडा पर और क्या-क्या मामले हैं?

चुनाव आयोग को दिए गए हलफनामे के मुताबिक. गोपाल कांडा के खिलाफ एक चेक बाउंस का केस, चिटिंग यानी चार सौ बीसी का केस, साजिश का केस, टैक्स चोरी का मामला, आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला, आपराधिक साजिश रचने का मामला और सबूतों से छेड़छाड़ के मामले में केस दर्ज हैं.


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.