पाकिस्तान को इस देश ने पहुंचाया भारी नुकसान, सीमा पार से दागे मोर्टार

0
168

इस्लामाबाद, एएनआइ। हाल ही में खैबर-पख्तूनख्वा के चित्राल जिले में अफगान सीमा सैनिकों के साथ अपनी सेना के संघर्ष के बाद पाकिस्तान को भारी नुकसान उठाना पड़ा है। पाकिस्तान सशस्त्र बलों की मीडिया विंग, इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) ने इस खबर की पुष्टि की और कहा कि उसके छह सैनिकों को चोटों का सामना करना पड़ा है। वहीं, EurAsian Times के अनुसार, इसमें पांच नागरिक भी घायल हो गए है। ISPR ने दावा करते हुए कहा कि अफगान सुरक्षा बलों ने प्रांत कुनार के नारी जिले से मोर्टार दागे और भारी मशीनगनों का इस्तेमाल किया।

हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि अफगान सीमा चौकी से शुरू हुई गोलीबारी के बाद हमारे द्वारा दिए गए मुंहतोड़ जवाब में वहां काफी नुकसान हुआ है। बता दें कि इस्लामाबाद सरकार अफगानिस्तान के साथ अपनी सीमा पर फेंसिंग का निर्माण कर रही है। वहीं, पाकिस्तान ने अफगानिस्तान में तालिबान शासन का समर्थन भी किया था, जहां इसके बाद से भी दोनों देशों के रिश्ते तनावपूर्ण बने हुए हैं।

Durand Line’, जो 1890 में अंग्रेजों द्वारा दोनों देशों के समक्ष बनाई गई थी, अफगान सरकार उससे छेड़छाड़ के खिलाफ है। बता दें कि अभी दो दिन पहले अफगान सेना द्वारा हवाई हमले में 47 तालिबानी आतंकी ढेर कर दिए गए थे। अफगानिस्तान भी पाकिस्तान में पल रहे आतंकियों से परेशान है और खुद के देश में छिपे आतंकियों का खात्मा करता रहता है।

दो दिन पहले सूचना मिली कि अफगानिस्तान के दक्षिणपूर्वी हिस्से में स्थित जाबुल प्रांत में सेना के हवाई हमले में तालिबान के 47 आतंकी मारे गए। सैन्य कार्रवाई की जानकारी देते हुए अफगान सेना के प्रवक्ता ने बताया कि मंगलवार को किए गए इस हमले में 15 आतंकी घायल भी हुए हैं।

बता दें कि इससे कुछ दिन पहले भी अफगानिस्तान के सीमावर्ती क्षेत्र में पाकिस्तानी सेना की गोलाबारी हुई थी जिसमें तीन महिलाओं की मौत हुई थी। अफगान अधिकारियों के मुताबिक पूर्वी सीमावर्ती प्रांत कुनार के नारी जिले की विवादित सीमा पर पाकिस्तान ने एक चौकी बनाने की कोशिश की थी। इसके बाद अफगान सेना और स्थानीय लड़ाकोंने इसका विरोध किया, जिसके बाद पाकिस्तानी सेना ने मोर्टार और रॉकेट दाग दिए। हालांकि पाकिस्तान ने इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.