मोदी बैंकॉक रवाना, आरसीईपी पर भारत की चिंताओं को रेखांकित किया

0
27

नई दिल्ली, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को आसियान शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक की तीन दिवसीय यात्रा पर रवाना होने से पहले कहा कि भारत क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक साझेदारी (आरसीईपी) वार्ता में प्रगति का जायजा लेगा, और सभी मुद्दों पर विचार करेगा, जिसमें यह विचार भी शामिल होगा कि क्या वस्तु, सेवा व्यापार में और निवेश में भारत की चिंताओं को पूरी तरह दूर किया गया है या नहीं। मोदी तीन दिवसीय यात्रा पर बैंकाक रवाना हुए, जहां वह तीन नवंबर को 16वें आसियान-भारत शिखर सम्मेलन और 14वें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। इसके अलावा वह चार नवंबर को तीसरे आरसीईपी शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे।

आरसीईपी में 10 आसियान देशों के साथ ही भारत सहित छह राष्ट्रों के बीच बड़े सौदे पर उन्होंने कहा, “आरसीईपी शिखर सम्मेलन के दौरान हम आरसीईपी वार्ता में प्रगति का जायजा लेंगे। हम सभी मुद्दे पर विचार करेंगे, जिसमें यह भी शामिल होगा कि क्या इस शिखर सम्मेलन के दौरान वस्तु, सेवा व्यापार और निवेश में भारत की चिंताओं और हितों को पूरी तरह से समायोजित किया जा रहा है या नहीं।”

यात्रा के दौरान मोदी बैंकॉक में मौजूद कई अन्य विश्व नेताओं के साथ द्विपक्षीय बैठकें करेंगे।

सम्मेलन के लिए निकलने से पहले मोदी ने कहा, “आसियान से संबंधित सम्मेलन हमारे राजनयिक कैलेंडर का एक अभिन्न हिस्सा होने के साथ ही हमारी एक्ट ईस्ट पॉलिसी में भी एक महत्वपूर्ण तत्व है।”

उन्होंने कहा कि भारत की भागीदारी 10 देशों के दक्षिण पूर्व एशियाई देशों के संगठन (आसियान) के साथ कनेक्टिविटी, क्षमता निर्माण, वाणिज्य और संस्कृति के प्रमुख स्तंभों के आसपास है।

मोदी इस दौरान आसियान भागीदारों के साथ हमारी सहकारी गतिविधियों की समीक्षा करेंगे। वह आसियान व इसके नेतृत्व वाले तंत्र को मजबूत करने, कनेक्टिविटी बढ़ाने (समुद्र, भूमि, वायु, डिजिटल और लोगों से लोगों तक) के लिए योजनाओं पर गौर करेंगे। इसके अलावा वह आर्थिक भागीदारी को गहरा करने और समुद्री सहयोग के विस्तार के लिए होने वाली वार्ता में भी हिस्से लेंगे।

मोदी चार नवंबर को नेताओं के लिए आयोजित एक विशेष भोज में भी हिस्सा बनेंगे, जो कि थाईलैंड के प्रधानमंत्री द्वारा आसियान के अध्यक्ष के रूप में आयोजित किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि वह दो नवंबर को थाईलैंड में भारतीय समुदाय द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में भी शामिल होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.