सांड की आंख / अनुपम खेर ने किया तापसी और भूमि का बचाव, कहा- मुझे गर्व है कि उन्होंने यह किरदार निभाया

0
54

बॉलीवुड डेस्क. ‘सांड की आंख’ में भूमि पेडनेकर और तापसी पन्नू के बुजुर्ग महिलाओं के किरदार पर हुए विवाद में वेटरन एक्टर अनुपम खेर ने प्रतिक्रिया दी है। खेर ने तापसी और भूमि का बचाव करते हुए कहा कि उनकी आलोचना करना गलत है, मुझे इसमे कोई तर्क नहीं दिखता। इतना ही नहीं उन्होंने फिल्म के किरदार को लेकर दोनों एक्ट्रेसेस की तारीफ भी की। 26/11 हमले पर आधारित अनुपम की आगामी फिल्म ‘होटल मुंबई’ 22 नवंबर को रिलीज होने जा रही है। 

एक्टिंग का मतलब होता है किसी भी रोल को बखूबी निभाएं: अनुपम खेर

  1. हाल ही में रिलीज हुई ‘सांड की आंख’ ने दर्शकों का ध्यान अपनी ओर खींचा था, लेकिन फिल्म में बुजुर्ग औरतों का किरदार निभा रही भूमि पेडनेकर और तापसी पन्नू को कई आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था। वेटरन एक्ट्रेस सोनी राजदान और नीना सहित कंगना रनाउत की बहन रंगोली ने  बुजुर्ग औरतों का रोल भूमि और तापसी को ऑफर होने पर सवाल उठाए थे। मामले में भूमि और तापसी का समर्थन करते हुए अनुपम ने कहा कि अपने कंफर्ट जोन से बाहर जाकर अदाकारी करना एक्टर का काम होता है। यह आलोचना गलत है, मुझे इसमे कोई भी लॉजिक नहीं दिखता है। एक्टिंग का मतलब ही यही होता है कि किसी भी रोल को बखूबी निभाएं ।”
  2. अपने अनुभव के बारे में अनुपम खेर ने बताया कि उन्होंने पहली फिल्म में 28 साल के होते हुए 65 साल के व्यक्ति का किरदार निभाया था। जब तब लोगों ने उनकी एक्टिंग की तारीफ की, तो अब क्यों नहीं। खेर ने भूमि और तापसी की तारीफ करते हुए कहा कि “मैंने सांड की आंख नहीं देखी है, लेकिन दोनों लड़कियों पर गर्व है कि उन्होंने यह रोल निभाया।”
  3. उम्र के हिसाब से कास्टिंग को लेकर हुए विवाद में सोनी राजदान और नीना गुप्ता ने भी तापसी और भूमि को रोल मिलने पर आपत्ति जताई थी। इतना ही नहीं एक्ट्रेस कंगना रनौट की बहन रंगोली ने तो फिल्म को लेकर तापसी और भूमि का जमकर मजाक बनाया था। अनुपम खेर ने तापसी और भूमि का बचाव करते हुए कहा कि “अगर सोनी और नीना ऐसा सोचती हैं तो यह गलत है। यह क्या बात हुई कि बुड्ढे का रोल सीनियर एक्टर से ही कराया जाना चाहिए था।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.