रेलवे ट्रैक पर संदिग्ध हालत में मिला लड़की का शव

0
134

कानपुर, उत्तर प्रदेश के औरेया जिले में दिल्ली-हावड़ा रेलवे ट्रैक पर 17 साल की लड़की के क्षत-विक्षत शव को संदिग्ध परिस्थितियों में बरामद किया गया है। कथित तौर पर सोमवार को चलती ट्रेन के आगे आ जाने से लड़की की मौत हो गई है।

इससे भी ज्यादा चौंकाने वाली बात यह है कि जीआरपी (सरकारी रेलवे पुलिस) के जवानों ने शव के टुकड़ों को पटरी पर से हटाने के लिए फावड़े का इस्तेमाल किया जिससे शव की हालत और भी ज्यादा बिगड़ गई।

जीआरपी के वरिष्ठ अधिकारियों ने इस मामले की जांच और सोशल मीडिया पर इस घटना से संबंधित एक वीडियो को पोस्ट किए जाने के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई किए जाने का आश्वासन दिया है।

इस बीच, मृतका की पहचान पूजा यादव के रूप में की गई है, जो दिबियापुर शहर के रानापुर के निवासी मोहन यादव की बेटी है।

पूजा, श्यामा इंटर कॉलेज में कक्षा 12 की छात्रा थी और उस दिन वह अपने कोचिंग क्लास के लिए निकली हुई थी।

स्थानीय लोगों ने ट्रेन से लड़की के कुचलने की सूचना पुलिस को दी थी।

जीआरपी में इंस्पेक्टर अवधेश पाठक ने कहा, “हमें स्थानीय लोगों से पटरी पर पड़े शव की जानकारी मिली। हम घटनास्थल पर पहुंचे और आईडी कार्ड के आधार पर पीड़िता की पहचान की, शव के पास पड़े स्कूल बैग से हमें उसका आधार कार्ड भी मिला।”

पूजा के परिवारवाले इस घटना को शक की निगाहों से देख रहे हैं।

परिवार के एक सदस्य ने पूछा, “पूजा न तो कभी परेशान थी और न ही निराश थी, तो फिर वह आत्महत्या क्यों करेगी?”

शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और उसकी मौत के सही कारणों का पता लगाने के लिए जांच शुरू कर दी गई है।

इस घटना को 1 नवंबर को हुई वारदात के काफी करीब पाया गया जहां सरस्वती विद्या मंदिर की एक छात्रा के शव को इसी जगह पर रहस्यमयी परिस्थितियों में पाया गया था।

जब यह हादसा हुआ तब वह भी अपने घर से कोचिंग क्लास के लिए निकली हुई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.