टेस्ट के नंबर 1 बल्लेबाज स्मिथ ने किया खुलासा, T-20 में इसलिए बनना चाहते हैं बेहतर

0
171

कैनबरा: बॉल टेपंरिंग विवाद के बाद दुनिया के नंबर एक टेस्ट बल्लेबाज ने क्रिकेट में शानदार वापसी की है. वापसी करने के बाद ना सिर्फ टेस्ट में बल्कि वनडे में भी स्मिथ पहले से बेहतर बल्लेबाज के तौर पर नज़र आ रहे हैं. पाकिस्तान के खिलाफ ट्वेंटी-ट्वेंटी मैच में स्मिथ ने 80 रन बनाकर सबसे छोटे फॉर्मेट में भी पीछे नहीं रहने के इरादे जाहिर कर दिए हैं.

स्टीव स्मिथ ने पाकिस्तान के खिलाफ खेले गए दूसरे टी-20 मैच में 51 गेंदों पर 80 रन बनाए और अपनी टीम को जीत दिलाई. टेस्ट में इस समय के बेहतरीन बल्लेबाजों में गिने जाने स्मिथ ने कहा है कि वह अब ट्वेंटी-ट्वेंटी फॉर्मेट में खुद को बेहतर बल्लेबाज बनाने पर काम कर रहे हैं.

स्मिथ का टी-20 में औसत 27.48 ही है. अगले साल आस्ट्रेलिया में ही टी-20 विश्व कप होना है और ऐसे में स्मिथ इस तरफ टीम का अहम हिस्सा बनना चाहते हैं जिस तरह से वे टेस्ट में हैं. स्मिथ ने कहा, “अगर आप टी-20 अंतर्राष्ट्रीय में मेरे रिकार्ड देखेंगे तो यह ज्यादा अच्छा नहीं है. मुझे लगता है कि आपको इस बात को ध्यान में रखना होगा कि मैं अपने करियर के शुरुआती दौर में नंबर-8 और 9 पर खेल रहा था, जहां मुझे आकर मारना होता था. यह आसान नहीं होता था. इससे एक समय आपके रिकार्ड पर असर पड़ता है. मैंने कभी अपनी काबिलियत पर शक नहीं किया. मैं खेल की स्थितियों के बारे में जानता हूं. मैं अब काफी टी-20 मैच खेल चुका हूं. मैं बाकी खिलाड़ी की तरह मजबूत कद काठी वाला बेशक न होऊं लेकिन मैं प्लेसमेंट और टाइमिंग का अच्छा इस्तेमाल करता हूं.”

पाकिस्तान पर ऑस्ट्रेलिया ने तीन मैचों की ट्वेंटी-ट्वेंटी सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है. आस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के बीच तीसरा टी-20 मैच शुक्रवार को पर्थ में खेला जाएगा. दोनों टीमों के बीच पहला मुकाबला बारिश की वजह से रद्द हो गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.