तीस हजारी कोर्ट मामला: यूपी बार काउंसिल ने किया हड़ताल का एलान, आठ नवम्बर को ठप्प रहेगा कामकाज

0
212

प्रयागराज: दिल्ली की तीस हज़ारी कोर्ट में पुलिस से हुई भिड़ंत की घटना के विरोध में समूचे यूपी के वकील आठ नवम्बर को कामकाज ठप्प कर पूरी तरह से हड़ताल पर रहेंगे. आठ नवम्बर को यूपी की सभी अदालतों में कामकाज ठप्प रहेगा और वकील जगह-जगह प्रदर्शन कर हुंकार भरेंगे. हड़ताल का एलान यूपी बार काउंसिल ने किया है.

आठ नवम्बर को हड़ताल के दौरान दिल्ली की तीस हज़ारी कोर्ट में हुई घटना के साथ ही यूपी में प्रयागराज समेत कई जगहों पर हुई वकीलों की हत्या का मुद्दा भी शामिल रहेगा. प्रदर्शन के ज़रिये यूपी के वकील दिल्ली के अपने साथियों के आंदोलन का समर्थन करेंगे तो साथ ही यह संदेश देने की भी कोशिश करेंगे कि अन्याय के खिलाफ पूरे देश के वकील एकजुट होकर संघर्ष करेंगे.

बार काउंसिल ही वकीलों की सबसे बड़ी संस्था है. वकीलों का रजिस्ट्रेशन करने के साथ ही उनके खिलाफ कोई कदम उठाने का अधिकार भी इसी संस्था को है.

बार काउंसिल दफ्तर से लेकर हाईकोर्ट गेट तक निकाला जाएगा प्रतिरोध मार्च

यूपी बार काउंसिल के चेयरमैन हरिशंकर सिंह के मुताबिक़ आठ नवम्बर को प्रयागराज में बार काउंसिल दफ्तर से लेकर हाईकोर्ट गेट तक प्रतिरोध मार्च भी निकाला जाएगा. काउंसिल के वरिष्ठ सदस्य अमरेंद्र नाथ सिंह का कहना है कि हड़ताल को लेकर सभी ज़िलों के स्थानीय संगठनों को सूचना दे दी गई है.

इलाहाबाद हाईकोर्ट के वकीलों ने भी की थी हड़ताल

बता दें कि दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट में मामूली पार्किंग विवाद को लेकर पुलिस और वकीलों के बीच जमकर झड़प हुई थी. इस मामले को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट के वकीलों ने भी
हड़ताल की थी. वकीलों ने इस मामले के आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई किये जाने की मांग की है.

प्रयागराज में हाईकोर्ट के साथ ही डिस्ट्रिक्ट कोर्ट, सेंट्रल एडमिनिस्ट्रेटिव ट्रिब्यूनल और तहसीलों के साथ ही दूसरी अदालतों के वकीलों ने  भी कामकाज ठप्प कर प्रदर्शन व नारेबाजी करते हुए अपना विरोध जताया था.

क्या है मामला?
दरअसल वकीलों और पुलिस वालों के बीच यह पूरा विवाद पार्किंग को लेकर हुआ. एक वकील ने अपनी कार कोर्ट परिसर में पार्क की, इस पर एक पुलिस वाले ने कहा कि अपनी गाड़ी हटाइए. वकील ने कहा कि सुनवाई के लिए जा रहा हूं, जल्द वापस आकर हटा दूंगा. इसी के बाद झगड़ा शुरू हो गया. वकीलों की ओर से आरोप है कि पुलिस वाले एक वकील को लॉकअप में लेकर गए और उसे बुरी तरह पीटा.

इसके बाद एक पुलिस वाले ने गोली चला दी जो एक वकील को जा लगी. इसके बाद घायल अवस्था में वकील को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. गोली लगने के बाद गुस्साए वकीलों ने पुलिस की गाड़ी में आग लगी दी और कई गाड़ियों में तोड़फोड़ की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.